महुआ के पेड़ पर फैला अफवाह, इस स्थल पर पहुंच गए पार्षद साहब

महुए के पेड़ में चमत्कार का अंधविश्वास थमने का नाम नहीं ले रहा है। पिपरिया,परासिया के बाद शहर से जुड़ा खापाभाट गांव भी इसकी चपेट में आ गया है। पिछले दो दिन से इस पेड़ के पास हाथ सरकने की अफवाह फैलने से जनसमूह पहुंच रहा है। बुधवार को क्षेत्रीय पार्षद शिवराम पंद्राम भी पेड़ के नीचे पूजा-पाठ करते देखे गए। हालांकि उन्होंने अफवाह का परीक्षण करने की बात कहींं। 
loading...
पार्षद ने पत्रिका को बताया कि पिछले दो दिन इस महुए के पेड़ में हाथ सरकने की अफवाह फैली है। इसके चलते लोग पूजन-पाठ करने आ रहे हैं। इसकी जानकारी लगने पर उन्होंने खुद इसका परीक्षण किया लेकिन उन्हें कुछ ऐसा महसूस नहीं हुआ। यह एक अंधविश्वास है। गौरतलब है कि महुए के पेड़ का चमत्कार पिछले कुछ माह से पूरे देश-प्रदेश में छाया हुआ है। 

सबसे पहले शुरुआत होशंगाबाद जिले के पिपरिया से हुई थी,जहां महुआ से बीमारियां ठीक होने की खबर सोशल मीडिया में प्रसारित होते ही लोगों की भीड़ लगना शुरू हो गई थी। इसके चलते पुलिस-प्रशासन को मशक्कत करनी पड़ी थी। इसके बाद परासिया में भी यहीं घटनाक्रम सामने आया था।