अभी डेढ़ माह पहले गायब हुए बेटे का नहीं मिला सुराग, परिजनों ने उठाई CBI जांच की मांग...

डेढ़ माह पहले ठियोग के देहा से लापता हुए शुभम के माता-पिता अपने बेटे के घर आने का इंतजार कर रहे हैं लेकिन अब इनकी आंखें अपने जिगर के टुकड़े का इंतजार करते-करते थक गई हैं। शुभम डेढ़ माह पहले अपने दोस्त पुनीत के साथ घर से बाहर गया था लेकिन वापस नहीं लौटा। परिजनों ने शुभम के लापता होने के पीछे पुनीत का हाथ होने की शंका जाहिर की है। शुभम देहा के धरकालना के जंगलों से लापता हुआ था।
परिजनों ने पुलिस की जांच पर सवाल उठाए हैं। उनका कहना है कि पुलिस पिछले डेढ़ महीने से देहा के जंगलों में शुभम को तलाश कर रही है लेकिन अभी तक शुभम का कोई सुराग नहीं मिल पाया है। उन्होंने मामले को लेकर सीबीआई जांच की मांग की है। परिजनों ने कहा कि शुभम गरीब का बेटा है इसलिए जांच धीमी है अगर किसी रसूखदार का बेटा गायब हुआ होता तो पुलिस इस तरह से जांच नहीं करती।
परिजनों ने शुभम के गायब होने के पीछे नशा माफिया का हाथ होने की भी शंका जाहिर की है। उन्होंने कहा कि शुभम को शायद नशा माफिया के कुछ राज पता चल गए होंगे इसलिए शुभम को गायब किया गया है। शुभम के परिजनों ने जल्द न्याय न मिलने पर स्थानीय पंचायत के लोगों के साथ सड़कों पर उतरने की सरकार को चेतावनी दी है। उन्होंने मामले को लेकर हाईकोर्ट का दरवाजा खटखटाने की भी बात कही है।