खगड़िया में हुआ खूनी खेल! 8 घंटे में तीन मर्डर से दहशत में लोग, 30 लोग हुए गिरफ्तार

खगडिया जिले में आठ घंटे में तीन लोगों की हत्या से दहशत फैल गई. बताया जा रहा है कि एक के बाद एक की गई इन हत्याओं का कनेक्शन पुरानी रंजिश से है. सबसे पहले जहां मानसी थाना के ठाठा गांव में देर रात गोलीबारी में दो पूर्व मुखिया बृजनंदन यादव और आमोद यादव की हत्या कर दी गई वहीं, बृजनंदन यादव के करीबी रहे सत्तो यादव को भी गोली मारकर मौत के घाट उतार दिया गया.
तीनों मर्डर एक-एक करके किया गया है जिस कारण गांव के साथ इलाके में दहशत का महौल बना हुआ है. भारी संख्या में पुलिसबल घटनास्थल पर देर रात से ही कैंप किए हुए है. घटना की सूचना मिलते ही बेगूसराय डीआईजी सहित कई थाना की पुलिस घटनास्थल पर पहुंचे. डीआईजी राजेन्द्र कुमार खुद मामले की छानबीन कर रहें हैं. उनका कहना है कि आपसी रंजिश को लेकर इस घटना को अंजाम दिया गया है. डीआईजी ने बताया कि पुलिस ने मामले में त्वरित कार्रवाई करते हुए 30 लोगों को गिरफ्तार कर लिया है वहीं, घटना में शामिल अन्य संदिग्धों की गिरफ्तारी के लिए छापेमारी की जा रही है. 

पूर्वी ठाठा गांव में देर रात से ही चल रहे खूनी खेल से पूरे इलाके में दहशत है. आपसी वर्चस्व की लड़ाई में कब किसकी जान चली जाय इस बात को सोचकर लोग भयभीत हैं. आपसी रंजिश में की गई हत्या के बाद इलाके में दहशत है. ग्रामीणों की मानें तो बृजनंदन यादव पूर्व मुखिया थे और उन्होंने अपनी पतोहू बुलबुल देवी को चुनाव में खड़ा कर मुखिया अमोद यादव को हरवा दिया था. उसी समय से दोनों के बीच आपसी वर्चस्व को लेकर गांव में हमेशा माहौल गर्म रहता था.