गुरुग्राम में एक महिला नेता की गोली मारकर कर दी गई हत्या, प्रेम प्रसंग से नाराज था उसका पति

दिल्ली से सटे हरियाणा के गुरुग्राम जिले में एक महिला नेता की उसके पति ने ही गोली मारकर हत्या कर दी। मामला गुरुग्राम के सेक्टर-93 के स्पेस सोसायटी का है। महिला एक बड़ी पार्टी में किसान मोर्चा की प्रदेश मंत्री थी। महिला हरियाणा के चरखी दादरी में राजनीतिक रूप से सक्रिय थीं। वह यहां पर पार्टी की जिला अध्यक्ष भी रह चुकी थीं। मृतक महिला नेता का नाम मुनेश गोदारा बताया जा रहा है। 
हत्या का आरोप मुनेश के पति सुनील गोदारा पर लगा है। जानकारी के मुताबिक सुनील ने अपनी लाइसेंसी रिवाल्वर से पत्नी की हत्या करके फरार हो गया है। प्रारंभिक जांच के मुताबिक, सेक्टर-93 के स्पेस सोसायटी निवासी सुनील कुमार की पत्नी मुनेश का कादीपुर निवासी एक युवक के साथ प्रेम प्रसंग चल रहा था। इस वजह से दोनों के बीच अक्सर लड़ाई होती रहती थी। शनिवार रात भी इसी वजह से लड़ाई हुई। 

गुस्से में आकर सुनील ने अपनी लाइसेंसी पिस्टल से मुनेश को एक गोली सिर में जबकि एक सीने में मार दी। गोली लगने से उसकी मौके पर ही मौत हो गई। आरोपित सुनील गोदारा मूल रूप से चरखी दादरी का रहने वाला है। वह पिछले कुछ समय से गुरुग्राम के सेक्टर 93 सोसाइटी में किराए पर परिवार सहित रह रहा था। सुनील एक निजी कंपनी में पीएसओ की नौकरी करता था। हत्या की यह वारदाता शनिवार रात की बताई जा रही है।  

चरखी दादरी की चंपापुरी कॉलोनी के निवासी और हत्यारोपित सुनीत के पिता चंद्रभान की शिकायत पर सेक्टर 10ए थाना पुलिस ने उनके बेटे सुनील, मुनेश के प्रेमी और उसकी पत्नी के खिलाफ मामला दर्ज करवाया है। चंद्रभान आर्मी से रिटायर्ड हैं। पूरा मामला प्रेम प्रसंग का है। प्रेमी की पत्नी के खिलाफ मामला इसलिए दर्ज कराया गया है कि क्योंकि उसे सब कुछ पहले से ही पता था। केस दर्ज कर पुलिस मामले की जांच कर रही है।