घर पर भाभी थी अकेली, तभी देवर एक लड़की को लेकर पहुंच गया...और फिर

प्यार पकड़े जाने पर घरवालों की मामूली डांट से दु:खी 19 साल के एक लड़के द्वारा फांसी लगाकर जान देने का चौंकाने वाला मामला सामने आया है। प्रेमी अकसर प्रेमिका को अपने घर ले आता था। प्रेमिका की उम्र महज 16 साल है। लिहाजा, परिजन उसे लेकर चिंतित थे। वे मृतक को समझाइश देते थे। जगधारी की प्रतापनगर कॉलोनी में रहने वाले सुरेश कुमार ने घर में चुन्नी का फंदा बनाकर सुसाइड कर लिया। सूचना मिलने पर पुलिस मौके पर पहुंची और जांच शुरू की। 
पुलिस को घटनास्थल से कोई सुसाइड नोट या संदिग्ध चीज नहीं मिली है। वहीं परिजनों ने भी इसके लिए किसी को दोषी नहीं ठहराया है। लिहाजा पुलिस ने धारा-174 की कार्रवाई करते हुए जांच शुरू कर दी है। मृतक के बड़े भाई लक्ष्मण ने बताया कि सुरेश बाइक मैकेनिक था। वो अकसर प्रेमिका को घर पर ले आया करता था। उसे इसके लिए समय-समय पर डांट भी पड़ती थी। एक जनवरी को उसकी भाभी घर पर अकेली थी। सुरेश उस दिन भी प्रेमिका को अपने घर ले आया।

घटनावाले दिन ही शाम को भाभी ने इस बारे में सास को बता दिया। इस पर सुरेश को डांट पड़ गई। सुरेश यह सहन नहीं कर पाया। सोमवार रात को उसने अपने कमरे में फांसी लगा ली। लक्ष्मण ने बताया कि वो अपने भाई को समझाता था कि लड़की उम्र अभी शादी की नहीं है। जब वो इस लायक हो जाए..तब शादी कर लेना। लेकिन वो ऐसा कोई कदम उठा लेगा..सोचा नहीं था।