दूल्हा बनने से पहले ही रेलवे गेटमैन की ट्रेन से कटकर हो गई मौत

आगरा-दिल्ली रेलवे लाइन पर ट्रेन की चपेट में आकर गेटमैन की मौत हो गई। पींगरी रेलवे फाटक पर तैनात गेटमैन पेट्रोलिंग करते हुए हादसे का शिकार हुआ। सूचना पर पहुंची फरह पुलिस ने दो हिस्सों में बंटे शव को कब्जे में लिया। युवक की आठ फरवरी को लगन-सगाई आनी थी और 10 फरवरी को बरात जानी थी।
थाना फरह के गांव बरौंदा निवासी देवेंद्र सिंह (23) पुत्र चंदन सिंह रेलवे में गेटमैन था। फरह के गांव पींगरी रेलवे फाटक पर शुक्रवार की सुबह रेलवे लाइन को चेक कर रहा था। पेट्रोलिंग करते हुए गेटमैन पींगरी रेलवे फाटक से डेढ़ किमी. दूर शहजादपुर के पास पहुंच गया। इसी बीच ट्रेन की चपेट में आकर मौत हो गई। घटना के बाद परिवार में कोहराम मच गया। पिता के अनुसार आठ फरवरी को देवेंद्र सिंह की लगन- सगाई सेमरी (छाता) के नगला रोशनलाल से आनी थी। दो दिन बाद 10 फरवरी को बरात जानी थी। 

कार्यवाहक थाना प्रभारी सत्यवीर सिंह ने बताया कि अभी कोई तहरीर नहीं मिली है। पिता चंदन सिंह ने रिटायर होने से पहले रेलवे की नौकरी छोड़ दी और बेटे देवेंद्र सिंह को नौकरी पर लगवा दिया। करीब तीन साल पहले रेलवे में पिता की जगह नौकरी पाने वाला देवेंद्र शादी की तैयारियों में जुटा हुआ था। परिवार में भी खुशी थी। शादी की सभी तैयारियां पूरी हो गई थीं लेकिन देवेंद्र की मौत से परिवार की खुशियां मातम में बदल गईं।