फिल्म देखकर प्रेमिका के पति का शव लगाया ठिकाने, चलते ट्रक में फेंका फोन, छूटे पुलिस के पसीने

महाराष्ट्र के नागपुर में तीन आरोपी एक शख्स की हत्या के मामले में गिरफ्तार किए गए है। पुलिस के मुताबिक, तीनों पर आरोप है कि उन्होंने दिसंबर में शख्स की हत्या कर शव को जमीन में 10 फीट नीचे गाड़ दिया था। पुलिस अफसर के मुताबिक, आरोपियों ने अजय देवगन की फिल्म दृश्यम से प्रेरित होकर पंकज दिलीप गीरमकर की हत्या कर शव को जमीन में गाड़ दिया। पंकज हल्दीराम कंपनी में इलेक्ट्रिशियन का काम करता था। 
उसके साथ ही आरोपियों ने उसकी बाइक को भी नागपुर के कापसी इलाके में बने एक ढाबे के नीचे दफ्न कर दिया। मुख्य आरोपी का नाम अमर सिंह है। वह एक ढाबा चलाता है। आरोप है कि उसके पंकज की पत्नी से संबंध थे। पंकज अपनी पत्नी को अमर सिंह से दूर रखने के लिए वर्धा शिफ्ट हो गया था। वह अपनी बाइक से ढाबे पर संबंध खत्म करने के लिए कहने आया था। 

इसी दौरान आरोपी और उसकी पत्नी के बीच झगड़ा हो गया। इसी दौरान अमर सिंह उसके सिर पर हथौड़े से हमला कर दिया। पंकज की मौत हो गई। इसके बाद आरोपी ने सबूत मिटाए। उसने ढाबे में ही 10 फीट गहरा गड्ढा खुदवाया और उसमें 50 किलो नमक के साथ उसे दफ्न कर दिया। साथ ही उसके ऊपर से उसकी बाइक भी उसी में दबा दी। इस दौरान उसके कुक और एक अन्य सहयोगी ने उसकी मदद की। 

आरोपी ने पंकज का फोन एक राजस्थान जा रहे ट्रक में फेंक दिया। जब पंकज घर नहीं लौटा तो उसके घरवालों ने पुलिस में शिकायत दर्ज कराई। क्राइम ब्रांच की टीम को जब अमर सिंह पर शक हुआ तो अफसर सादे कपड़े में कई ढाबे में गए। इसके बाद जब क्राइम ब्रांच की टीम को सबूत मिले तो तीनों को शुक्रवार को गिरफ्तार कर लिया गया। पुलिस ने शव को बरामद कर जांच शुरू कर दी है।