गेहूं पिसवाने के लिए पति के पास नहीं थे पैसे, पत्नी ने खुद को लगा लिया आग! और फिर...

मध्य प्रदेश क बैतूल में पति से झगड़ा होने के बाद एक महिला की जलकर मौत हो गई. महिला की मौत को लेकर रहस्य बना हुआ है कि आखिर वो कैसे जली और क्या इसके पीछे कोई साजिश है? युवती की मौत को लेकर पति जहां दावा कर रहा है कि गेहूं नहीं पिसवाने की वजह से विवाद के बाद पत्नी ने खुद आग लगाकर आत्महत्या कर ली, वहीं मृतक महिला के मायके वाले ससुराल वालों पर जिंदा जला देने का आरोप लगा रहे हैं.
दरअसल बैतूल जिला मुख्यालय के पास के ही गांव राठीपुर में आग से जली महिला की मौत हो जाने के बाद महिला के परिजनों ने पति पर बेटी को जलाने का आरोप लगाया है, लेकिन पति ने इस आरोप से पूरी तरह इनकार कर दिया. मृतक युवती के पति गुलाब ने बताया कि गेंहू पिसवाने को लेकर मामूली विवाद हुआ था, जिसके बाद पत्नी ने खुद पर मिट्टी का तेल छिड़क कर खुद को आग लगा ली और जलने से उसकी मौत हो गई. मृतक युवती के पिता ने बताया कि यह मामला 31 जनवरी की रात की है. पत्नी से मामूली कहासुनी के बाद पत्नी ने खुद पर केरोसिन डालकर आग लगा ली. 
चिल्लाने पर उसने कंबल डालकर आग बुझाई और उसे जिला अस्पताल में भर्ती भी कराया था, जहां पत्नी की मौत हो गई. हालांकि युवती के परिजनों ने युवती के पति की इस बात को मानने से साफ इनकार कर दिया और उसके पिता ने कहा कि पेशे से ट्रक ड्राइवर उनका दामाद शराब के नशे में रोज बेटी से मारपीट किया करता था. ऐसे ही एक दिन झगड़े में दामाद गुलाब ने केरोसीन छिड़कर बेटी को जिंदा जला दिया. इस मामले को लेकर बैतूल जिले के एएसपी आरएस मिश्रा ने कहा कि इस पूरे मामले की हर एंगल से जांच की जा रही है. जांच में जो भी सामने आएगा उसके बाद कानून के हिसाब से कार्रवाई की जाएगी.