आधी रात सुनसान जंगल में बिगड़ गई वॉल्वो बस, दहशत में दुबके रहे यात्री और फिर जानें क्या हुआ...

इंदौर-पुणे रूट पर बस संचालन करने वाले ट्रैवल्स की लापरवाही जारी है। कभी बीच रास्ते में बसें खराब हो जाती हैं, कभी यात्रियों का सामान चलती बस में ही चोरी हो जाता है तो कभी तेज रफ्तार के चलते बसें दुर्घटनाग्रस्त हो जाती हैं, जिससे यात्रियों की जान पर बन आती है। ताजा मामला राजरतन ट्रैवल्स की पुणे-इंदौर बस का है।
गुरुवार रात 9.25 बजे पुणे से रवाना हुई राजरतन ट्रैवल्स की बस आधी रात को नासिक में सुनसान जगह खराब हो गई। ठंड में यात्री रातभर परेशान होते रहे, लेकिन ट्रैवल्स संचालक ने मदद नहीं की। किसी अनहोनी के डर से पूरी रात यात्रियों ने बस में ही बिताई। सुबह करीब 6.30 बजे दूसरी बस से यात्रियों को इंदौर के लिए रवाना किया गया। यह बस करीब दोपहर 2 बजे इंदौर पहुंची।

राजरतन ट्रैवल्स की वॉल्वो बस एमपी-41 पी 5559 पुणे से रात 9.25 बजे रवाना हुई थी। इसमें मौजूद यात्रियों के अनुसार शुरुआत से ही बस में खराबी आ रही थी। रात ३.३० बजे नासिक के आगे वह खराब हो गई। बस स्टाफ ने भी यात्रियों की मदद करने से हाथ खड़े कर दिए। यात्रियों ने ट्रैवल्स के हेल्पलाइन नंबर पर भी कॉल किए, लेकिन मदद नहीं मिली। यात्रियों ने पुलिस को कॉल कर बुलाया, जब जाकर बस स्टाफ को दूसरी बस सुबह बुलाने का कहा गया। रातभर यात्री भरी ठंड में दूसरी बस का इंतजार करते रहे। आज सुबह 6.30 बजे ट्रेवल्स संचालक ने दूसरी बस भेजी। कुल मिलाकर यात्री रातभर परेशान होते रहे।