इतना शानदार शौचालय की बसा लिया गृहस्थी....

आमजन की सुविधा के लिए शहर के पुराने वार्ड 11 व वर्तमान वार्ड 15 में करीब दो वर्ष पूर्व स्वच्छ भारत मिशन अभियान के अन्तर्गत बने सार्वजनिक आधुनिक सुलभ शौचालय में दम्पत्ती ने गृहस्थी बसा ली। सुनकर आप भी चौंक गए होंगे, नगरपरिषद सभापति व अधिकारी भी मौके पर पहुंचे तो दंग रह गए। सभापति को एक बारगी विश्वास नहीं हुआ, तस्दीक के लिए अधिकारियों से पूछा तो नगरपरिषद की ओर से निर्मित बताया। जवाब सुनकर आश्चर्य चकित हो गई। दम्पत्ती ने सुलभ शौचालय में ड्राइंग व बैडरूम सहित किचन भी बना लिया। नगर परिषद की टीम मौके पर महिला चाय बनाती हुई मिली।
सभापति पायल सैनी ने बताया कि इसके बारे में सूचना मिली थी, लेकिन रख-रखाव देखकर उन्हें विश्वास नहीं हुआ। आने से पहले दो बार सुलभ शौचालय होने की तस्दीक करवाई गई।बाद में मौके पर पहुंची तो देखकर उन्हें भी विश्वास नहीं हुआ। नगर परिषद सभापति पायल सैनी ने बताया कि करीब दो वर्ष पूर्व स्वच्छ भारत मिशन अभियान के अन्तर्गत करीब 17 लाख की लागत से बने आध्ुानिक शौचालय का उपयोग आमजन की ओर से नहीं कर एक किरायेदार के रूप में एक परिवार कर रहा था। 

उन्होने बताया कि बोर्ड भाजपा का था व कार्यकारी एजेन्सी भी नगरपरिषद थी और इसके निर्माण का ठेका भी भाजपा पार्षद के पति के नाम बताया जा रहा है। उन्होंने बताया कि जल्द ही जिला कलक्टर से मिलकर इसका उद्घाटन करवाया जाकर आमजन के उपयोग में लाया जाएगा। आधुनिक शुलभ शौचालय का निर्माण निजी एवं लोक परिवहन की बसों के लिए बनाए गए बस स्टैण्ड के मध्य नजर करवाया गया था। लेकिन किन्ही कारणों से बस स्टैण्ड शुरू नहीं हो पाया, बोर्ड अपने ही पैसों से बने इस शुलभ शौचालय को भूल गई।