प्यार के आगे झुक गए परिजन, प्रेमी युगल की मंदिर में कराई गई शादी

प्रेमी युगल ने एक दूसरे से प्यार किया। सात जन्म साथ निभाने की कसमें खाई। दोनों के परिजन के बीच शादी की बात चल रही थी। लेकिन किसी बात को लेकर दोनों के परिजनों में विवाद हो गया। दोनों प्रेमी युगल का मिलन टूटने वाला था। इसके बाद प्रेमी युगल ने अपने-अपने परिजनों का विरोध कर स्थानीय मंदिर में पहुंचकर एक-दूसरे को वरमाला डालकर शादी रचा ली। 
प्रेमी युगल के प्यार के आगे दोनों के परिजनों को आखिर झुकना पड़ा। बताते हैं कि धनसार नई दिल्ली कॉलोनी निवासी राजकुमार चौहान की पुत्री बेबी कुमारी व सहाना पहाड़ी बस्ती निवासी गणेश चौहान के पुत्र आकाश चौहान की शादी के पूर्व दोनों पक्षों में किसी बात को लेकर तनाव हो गया था। जबकि लड़का-लड़की एक-दूसरे को पसंद करते थे। दोनों जोड़ा विवाह करने को राजी थे। शनिवार को शिव मंदिर के समीप दोनों पक्ष जमा हो गए। 

दोबारा दोनों पक्षों में कहासुनी होने लगी। मामले की गंभीरता को देखते हुए स्थानीय प्रबुद्ध लोगों ने हस्तक्षेप किया। काफी समझाने बुझाने के बाद दोनों पक्ष शादी के लिए राजी हो गए। आनन-फानन में शादी की व्यवस्था शिव मंदिर में की गई। वैदिक मंत्रोच्चारण के बीच वर-वधू ने मंदिर में सात फेरे लेकर एक-दूसरे को अपना लिया। विवाह संपन्न कराने में प्रबुद्ध लोगों के साथ कांग्रेसी नेत्री फुलेश्वरी देवी ने महत्वपूर्ण योगदान दिया।