मां को साथ रखने के लिए बेटियों में चल गई लाठियां, कारण जानकर चौंक जाएंगे आप...

आज के इस दौर में जहां खबरें आती हैं कि वृध्द माता-पिता को बच्चे साथ रखने से कतराते हैं वहीं यह मामला अलग है। वृद्ध मां को साथ रखने के लिए दो बेटियों के बीच ऐसी सिर फुटौव्वल हुई कि पांच जने अस्पताल पहुंच गए।
पुलिस के अनुसार देवनहल्ली तहसील के दोड्डासागर हल्ली गांव निवासी जमीला (६२) का पति सरकारी कर्मचारी था। कुछ साल पहले उसकी मौत होने पर उसकी पेंशन जमीला को मिलने लगी। जमीला कई साल से बड़ी पुत्री बीबी जान के साथ रहती थी। बीबीजान पेंशन की रकम लेकर इसे खर्च करती थी। जमीला की दूसरी बेटी रेशमा ने हाल में मां को अपने साथ रखने का प्रस्ताव बहन बीबीजान को दिया। इसे लेकर दोनों में झगड़ा होने लगा।

रेशमा अपने पति मौला साब के साथ बीबीजीन के घर में जबरन घुसी और दोनों ने जमीला, बीबीजान, पति इमाम, पुत्र मोहम्मद एहसान और पुत्री आलिया बेगम पर लाठियों से मार कर गंभीर रूप से जख्मी कर दिया। पड़ोसी लोगों के सहायता के लिए आने पर बीबीजान और मौला भाग गए। घायलों को देवनहल्ली की सरकारी अस्पताल में भर्ती कराया गया है। विजयपुर पुलिस मामला दर्ज कर आरोपियों को तलाश कर रही है।