बेटे का रिश्ता तय कर भिलाई लौट रहा चुरेंद्र परिवार की हुई कार दुर्घटनाग्रस्त, बुझ गया घर का चिराग

बेटे का रिश्ता तय कर वापस लौटते वक्त कार दुर्घटनाग्रस्त हो गई जिससे परिवार का चिराग बुझ गया। यह दर्दनाक दुर्घटना बीती रात की है। कार में सवार सभी लोगों को चोट पहुंची है। वहीं चालक उमेश कुमार को खरोच तक नहीं आई है। घायलों को प्राथमिक उपचार के बाद शहीद अस्पताल दल्लीराजहरा रेफर किया गया है। गंभीर रूप से घायल दो लोगों को मेकाहारा रायपुर रेफर किया गया है।
जानकारी के अनुसार मरोदा भिलाई से बस्तर के भानुप्रतापपुर से वापस लौटते वक्त बीती रात ग्राम लिम्हाटोला पहुंचने से पहले मुख्य सड़क मार्ग पर जायलो वाहन क्रमांक सीजी 07 एटी 2572 दुर्घटनाग्रस्त हो गई। कार को 19 वर्षीय उमेश कुमार टंडन पिता लखनलाल चला रहा था। बताया जाता है कि उसे झपकी आने पर खंभे से टकरा कर कार पलट गई। कार में मरोदा भिलाई के चुरेन्द्र परिवार सवार था। दुर्घटना से एक ही परिवार के सात लोग घायल हो गए वहीं घर का एक चिराग बुझ गया।

जानकारी के अनुसार मरोदा भिलाई से चुरेन्द्र परिवार के आठ सदस्य सुमित कुमार चुरेंद्र पिता मुक्तिलाल 20 वर्ष की घटनास्थल पर ही मौत हो गई। वहीं कार में सवार परिवार के 52 वर्षीय गणेशराम, 48 वर्षीय शकुंतला, 24 वर्षीय अंजू, 25 वर्षीय अनिल कुमार, 42 वर्षीय सरोज, 25 वर्षीय नागेश्वरी, 26 वर्षीय गोलू घायल है। दुर्घटना की सूचना मिलने पर 108 वाहन से घायलों को डौंडी सरकारी अस्पताल ले जाया गया। प्राथमिक उपचार के बाद सात घायलों को दल्लीराजहरा शहीद अस्पताल रेफर किया गया। जहां शकुंतला और अंजू की गंभीर स्थिति को देखते हुए मेकाहारा रायपुर रेफर किया गया।