450 साल पहले ही कोरोना की भविष्यवाणी हो चुकी थी,इस किताब में लिखा है 2020 में होगी बर्बादी

चीन से निकला जानलेवा कोरोना ने अब पूरी दुनिया को जकड़ लिया है और अब तक 5 लाख से ज्यादा इसके पॉजिटिव केस आ चुके है.वहीं इस खतरनाक बीमारी के कारण लगभग 20,000 लोग अपनी जान गवां चुके है.लेकिन आज हम आपको एक ऐसी जानकारी के बारे में बताने जा रहे है जिसके बारे में शायद ही आप जानते होंगे.दरअसल फ़्राँस के महान ज्योतिषी और भविष्यवाणी के वक्ता नास्त्रेदमस ने कहा था की साल 2020 में एक महामारी दुनिया को अपने चपेट में ले लेगी.इसके साथ ही उन्होंने इस बात का भी खुलासा किया था की साल 2020 के अंत तक तृतीय विश्व युद्ध हो सकता है और दुनियाभर के देश आपस में लड़कर अपनी बर्बादी का कारण बनेंगे.
इस प्रकार नास्त्रेदमस ने साल 2020 को बर्बादी का साल बताया था जिसकी शुरूआत अब हो चुकी है.इसके अलावा एक और जानकार डीन कोंटज़ ने भी अपनी किताब में इस बात का उल्लेख किया था की समुद्र किनारे बसे एक शहर से एक वायरस फैलेगा.हालांकि चीन का वुहान शहर भी एक नदी के किनारे ही बसा है जहां से कोरोना की शुरूआत हुई है।
कई रिसर्च भी ऐसा बताते है की नास्त्रेदमस द्वारा किये गए अब तक की ज्यादातर भविष्यवाणी सच हो चुकी है.बीते साल ऑस्ट्रेलिया और अमेज़न के जंगलों में जो आग लगी और उससे तबाही हुई थी उसके भी कई सूत्र किताब में मिले थे जो सच हुए.
यानि की कोरोना पर नास्त्रेदमस की किताब सच साबित हुई है जो अब दुनिया में तबाही मचा रही है.हालांकि इसके उपाय और इससे लड़ने की कोई तरकीब नहीं बताई गई है,लेकिन ऐसा जरूर कहा गया है की ये सभी आपदाएं कुछ ही दिनों में समाप्त भी हो जाएगी और लोगों का जनजीवन सहज हो जाएगा.लेकिन इसके लिए कई लाख लोगों को अपनी जान से हाथ धोना पड़ेगा और ऐसा ही देखने को मिल रहा है.