इस देश ने बना लिया कोरोना का टीका, इंसानों पर शुरू हो गया परीक्षण

कोरोना की शुरुआत चीन से ही मानी जा रही है। ऐसे में चीन इस वायरस की काट खोजने में जुटा हुआ है। चीन ने कोरोना वायरस के टीके का इंसानों पर परीक्षण शुरू कर दिया है। यह चीन की पहली वैक्सीन है जिसे टर्मिनेटर ऑफ इबोला कही जाने वाली देश के शीर्ष सैन्य जैव युद्ध विशेषज्ञ ने तैयार किया है। चीन इस टीके को लेकर ज्यादा गंभीर इसलिए है क्योंकि विशेषज्ञों ने चेतावनी दी है कि चीन में कोरोना वायरस का दुबारा हमला भी हो सकता है।
टीके के परीक्षण से जुड़े शीर्ष शोधकर्ता चेन वुई ने बताया कि सरकार ने उन्हें टेस्ट करने की अनुमति दे दी है। उन्होंने कहा कि कोरोना वायरस का खात्मा करने के लिए वैक्सीन सबसे बड़ा हथियार है। अगर चीन इस तरह का हथियार बनाने और मरीजों को बचाने में सबसे पहले सफल होता है तो यह हमारे देश की छवि और विज्ञान के क्षेत्र में प्रगति को दर्शाता है।
चेन ने कहा कि उनकी टीम ने इस वैक्सीन के विशाल पैमाने पर उत्पादन के लिए तैयारी कर ली है। बताया जा रहा है कि कोरोना वायरस की यह वैक्सीन एक महीने के शोध के बाद सफलतापूर्वक तैयार की गई है। इसमें इबोला के टीकों का भी अध्ययन किया गया है।
चीन की सरकारी मीडिया के मुताबिक यह वही चेन हैं जिन्होंने वर्ष 2003 में सार्स के फैलने के बाद मेडिकल स्प्रे बनाया था। इस स्प्रे से 14 हजार मेडिकल वर्कर्स की जान बच गई थी। चेन को टर्मिनेटर ऑफ इबोला कहा जाता है और वे जेनेटिक इंजििनयरिंग वैक्सीन की विशेषज्ञ हैं और उस टीम का नेतृत्व करती हैं जो जानलेवा बीमारियों के लिए वैक्सीन तैयार करती है।

गाय के दूध से ज्यादा महंगा गोमूत्र-गोबर
कोरोना वायरस की दहशत के बीच इसके इलाज को लेकर भी तरह-तरह की चर्चाएं हो रही हैं। एक अंग्रजी अखबार की रिपोर्ट के अनुसार कोरोना वायरस का असर बढऩे के साथ ही देश में गोमूत्र और गाय के गोबर का दाम बढ़ गए है। रिपोर्ट के अनुसार गोमूत्र 500 रुपए लीटर और गाय का गोबर 500 रुपए रुपए किलो बिक रहा है। पश्चिम बंगाल के एक दूध विक्रेता माबूद अली का दावा है कि दूध के मुकाबले उसे ज्यादा कमाई गोमूत्र और गाय के गोबर में हो रही है। गोमूत्र और गाय का गोबर 500 रुपए में बेचा जा रहा है।
अली ने अपनी दुकान पर एक पोस्टर भी चिपकाया है, जिस पर लिखा हुआ है- गोमूत्र पियें और कोरोना वायरस से बचें। उन्होंने दावा किया कि दिल्ली में आयोजित हिन्दू महासभा की एक पार्टी से उन्हें यह आइडिया मिला। अली ने बताया कि उनके पास दो गायें हैं। एक देशी और एक जर्सी। जब उन्होंने टीवी पर गोमूत्र पार्टी देखा तो उन्हें आइडिया मिला कि वह गोमूत्र और गोबर बेचकर अधिक फायदा उठा सकते हैं।