महिला ने अपने पति को खत्म करने के लिए दी एक लाख की सुपारी, और फिर खुला चौंकाने वाला राज, तो उड़ गये सबके होश

जैसलमेर एसपी किरण कंग ने रुपादेवी ओढाणियां की बमुकाम घटनास्‍थल ओढाणियां ने रिपोर्ट पेश कि 14 अगस्त को उसके पति खेताराम को रात को एक दुकान के आगे से अज्ञात ने हत्‍या कर दी। फिर लाश को उठाकर चांदनी जाने वाली रोड के पूर्व साइड में पटक दिया।
दरअसल, मामले की जांच कर रही पुलिस टीम ने मृतक की पत्नी की गतिविधि संदिग्ध लगने पर 17 अगस्त को उसे हिरासत में लेकर पूछताछ की। शुरुआत में वह पुलिस को गुमराह करती रही। सख्ती बरतने पर उसने सच उगल दिया। उसने पुलिस को बताया कि पति से परेशान होने के कारण उसने गांव ओढानिया निवासी मदन पुत्र लालाराम जाति मेगवाल को एक लाख रुपए की सुपारी देकर पति की हत्या का सौदा किया। 20 हजार रुपए एडवांस दिए।

इस पर पुलिस ने मदन को भी हिरासत लेकर पूछताछ की तो पता चला कि उसने अपने दो अन्य साथी हेमाराम पुत्र पोकरराम एंव मोटू पुत्र गुमानाराम मेगवाल निवासीयान सनावडा के साथ मिलकर खेताराम की हत्या की। पुलिस ने आरोपी मदन, हेमाराम, मृतक की पत्नी रूपा देवी को गिरफ्तार कर लिया है।

उसकी पुरानी रंजिश थी मदन के साथ पुलिस को आरोपियों ने बताया कि 9-10 माह पूर्व खेताराम ने मदन पर केस कर दिया। तब पुलिस ने उसको धारा 151 सीआरपीसी में बंद किया था। इस कारण मदन खेताराम से नाराज था। खेताराम शराब के नशे में परिवार के साथ मारपीट करता रहता था। खेताराम शराब के नशे का आदि था। करीब 3-4 माह पूर्व रूपा व मदन की फोन पर बात हुई थी तब रूपो ने मदन को बताया कि मेरा पति रोज घर पर लडाई झगड़ा करता रहता है तभी दोनों ने उसकी हत्या की योजना बनाई।