Coronavirus: कोरोना वायरस से बचाने के लिए पादरी ने लोगों को पिलाया डिटॉल, 59 लोगों की हुई मौत

पादरी ने भगवान का आदेश मानकर लोगाें को कोराेना से बचाने के लिए पिला दिया था डिटॉल। इसे पीने से 59 लोगों की हो गई मौत
चीन के वुमान से निकला कोरोना वायरस (CoronaVirus) दुनिया भर में फैलता जा रहा है। इसके चलते इटली समेत कई देशों में लॉकडाउन (lockdown) कर दिया है। ऐसे में इससे बचने के लिए लोग भी तरह तरह की दवाए तलाश कर रहे हैं। इसबीच दक्षिण अफ्रीका से बहुत ही चौंकाने वाली खबर सामने आई है। जहां एक चर्च के पादरी से लोगों को कोरोना वायरस से बचाने के लिए दवा के नाम पर डिटॉल पिला दिया। इससे लोगों की हालात बिगड। इतना ही नहीं कुछ ही देर में 59 लोगों ने दम तोड दिया है। वहीं पांच इलाज जारी है।

पादरी ने चर्च पहुंचे लोगाें को जताया यह भरोसा

दरअसल दक्षिण अफ्रीका में स्थित एक चर्च में रुफस फला पादरी है। उसने कथित तौर पर चर्च की सेवा करने के उद्देश्य से वहां मौजूद लोगों को डिटॉल पिला दिया। उसने बताया कि यह ऐसी दवा कोरोना वायरस का खात्मा कर देगी। इतना ही नहीं उसने दावा किया कि इस दवा के पीने से कभी कोरोना नहीं होगा। इस पर लोगों को विश्वास जितकर पादरी ने सभी डिटॉल पिला दिया। इसकी वजह से 59 लोगों की मौत हो चुकी है, जबकि चार अन्य की हालत गंभीर बनी हुई है। इसका पता लगते ही पुलिस मामले की जांच में जुट गई है।

पहले से ही कई बीमारियों के चपेट में थे लोग

मीडिया रिपोर्ग्स के अनुसार पैगंबर के अनुयायियों को यह विश्वास था कि डिटॉल उन्हें घातक बन चुकी बीमारी कोरोना वायरस से बचा सकता है। इतना ही नहीं यह उसे सभी बीमारियों से दूर रखेगा। ऐसे में पहले ही दूसरी बीमारियों से पीड़ित लोगों को पादरी से डिटॉल पिला दिया। जिसे पीते ही 59 लोगों की मौत हो गई। जबकि चार की हालत गंभीर बनी हुई है। वहीं लोगों को कीटाणुनाशक पीने के लिए डिटॉल देने वाले पादरी रुफस ने कहा कि उसे भगवान ने यह आदेश दिया था। उन्होंने कहा था कि इसे पिलाने से सभी बीमारी ठीक हाे जाएगी। इतना ही नहीं पादरी ने कहा कि 'मुझे पता है कि डेटॉल हानिकारक है, लेकिन भगवान ने मुझे इसका इस्तेमाल करने का निर्देश दिया था।