करोड़ों का माल ट्रकों में छोड़ भाग आए 100 ड्राइवर

लॉकडाउन का ऐलान होने के बाद बरेली के लगभग 100 ट्रक चालक भरी गाड़ियां छोड़कर अपने घर भाग आए हैं। इन लोगों ने गाड़ियों को देश के विभिन्न हिस्सों में खड़ा छोड़ दिया। अब ट्रांसपोर्टर सामान की सुरक्षा को लेकर बेहद चिंतित हैं।
जनता कर्फ्यू के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 21 दिनों के लॉकडाउन का ऐलान कर दिया था। इस दौरान बरेली के लगभग 200 ट्रक कर्नाटक, महाराष्ट्र, तमिलनाडु, आंध्र प्रदेश, तेलंगाना, पंजाब आदि प्रदेशों में थे। लॉकडाउन होने से इन के ड्राइवरों और सहायकों को खाना मिलने में भी परेशानी होने लगी।

घर से भी इन लोगों के पास फोन जाने शुरू हो गए। मौका देख कर लगभग 100 ट्रक ड्राइवर सामान से भारी गाड़ियों को ढाबों पर खड़ी करके वापस बरेली चले आए। इन लोगों ने ग्रुप बनाकर कई गाड़ियों का डीजल निकाल कर कुछ गाड़ियों का ईंधन टैंक भर लिया। इसके बाद बरेली भाग आये।गाड़ियों में भरा है करोड़ों का मालट्रांसपोर्टर हरीश विग ने बताया उनकी के ही 60 ड्राइवर वापस बरेली चले आए। अधिकतर साउथ के प्रदेशों में गाड़ी खड़ी कर भाग आये हैं।

इन गाड़ियों में उत्तराखंड की फैक्ट्रियों का करोड़ों का सामान लोड है। सामान को लेकर हम लोग काफी चिंतित हैं। लॉकडाउन खत्म होने के बाद ही अब यह सामान वापस आ पाएगा।माल की सुरक्षा को लेकर हैं चिंतितट्रांसपोर्ट एसोसिएशन के अध्यक्ष शोभित सक्सेना ने बताया कि दूरदराज गए चालक भी गाड़ियां छोड़कर भाग आए हैं। कई ट्रांसपोर्टर ने इसकी शिकायत की है। गाड़ियों से ज्यादा उन में लोड माल की चिंता है। ट्रांसपोर्टर इन गाड़ियों को लाने के लिए प्रयासरत हैं। फिलहाल ड्राइवर वापस जाने को तैयार ही नहीं है।