हाईस्कूल स्टूडेंट को बनाया बंधक, 17 दिन लूटी अस्मत, साथी छात्र ही है क्रिमिनल

बलरामपुर-रामानुजगंज जिले के करौंधा थाना क्षेत्र की हाईस्कूल में पढऩे वाली छात्रा को बंधक बनाकर 15 दिन तक दुष्कर्म (Girl student raped) करने का मामला सामने आया है। छात्रा की कक्षा में पढऩे वाले छात्र द्वारा इस वारदात को अंजाम दिया गया। छात्रा के घर से गायब होने की रिपोर्ट उसके माता-पिता ने थाने में दर्ज कराई थी।
इसी बीच पुलिस को मुखबिर से सूचना मिली तो वे छात्र के घर पहुंच गए और छात्रा को उसके कब्जे से मुक्त कराया। पुलिस ने अपचारी किशोर को गिरफ्तार कर बाल संप्रेक्षण गृह अंबिकापुर भेज दिया है।

बलरामपुर-रामानुजगंज जिले के करौंधा थाना क्षेत्र अंतर्गत निवासी एक किशोरी मदगुरी हाई स्कूल में पढ़ती थी। उसी स्कूल में उसके साथ पढऩे वाले एक किशोर से उसकी परिचय हुआ और दोनों एक-दूसरे को पसंद करने लगे। दोनों के बीच जुलाई 2019 से प्रेम-प्रसंग चल रहा था।

इस बीच छात्रा पिछले महीने 14 मार्च की रात से बिना किसी को कुछ बताए घर से लापता हो गई थी। परिजनों ने पहले तो अपने स्तर से उसकी खोजबीन की लेकिन जब कहीं पता नहीं चला तो इसकी सूचना करौंधा थाने में दी थी। (Classmate rape girl)

किशोरी के लापता होने की मामला को गम्भीरता से लेते हुए पुलिस मामले में अज्ञात के खिलाफ अपहरण का मामला दर्ज कर किशोरी की तलाश में जुटी हुई थी। इसी बीच पुलिस को कुसमी थाना क्षेत्र के ग्राम रामनगर में किशोरी के होने की सूचना मुखबिर के माध्यम से मिली।

शुक्रवार को करौंधा थाना प्रभारी अवनीश कुमार श्रीवास के नेतृत्व में पुलिस की टीम ने घेराबंदी कर छात्रा को छात्र के घर से बरामद कर लिया। फिर पुलिस ने अपचारी बालक को गिरफ्तार कर न्यायालय में पेश किया, जहां से उसे बाल संप्रेक्षण गृह अंबिकापुर भेज दिया गया।

छात्रा बोली- शादी का दिया था झांसा

पुलिस की पूछताछ में छात्रा ने बताया कि 14 मार्च को आरोपी ने उसे मिलने के लिए बुलाया था। जब वह घर से बाहर निकली तो उसने कहा कि वह उससे शादी करेगा और अपने साथ भगाकर ले गया।

छात्रा ने बताया कि इसके बाद वे उसने कई बार उसके साथ बलात्कार (Rape) किया। मामले में पुलिस ने आरोपी अपचारी बालक के खिलाफ धारा 363, 366, 376, (2) (ढ़) के तहत गिरफ्तार किया।