आपत्तिजनक हालत में मिले लड़के लड़कियां, गेस्ट हाउस में मिलता था 1800 का कमरा

पिछले काफी समय से चल रहे देह व्यापार के धंधे को लेकर एक्शन में आई सिटी पुलिस ने दोपहर को 3 गैस्ट हाऊस में छापामारी की, जिसमें 2 गैस्ट हाऊस में 3 जोड़े मौके पर पकड़े गए। पुलिस ने गैस्ट हाऊस के मालिक सहित तीनों प्रेमी जोड़ों को गिरफ्तार कर लिया है, जबकि 2 गैस्ट हाऊस के मालिक मौके से फरार हो गए।  ए.एस.पी. नकोदर वत्सला गुप्ता ने बताया कि पुलिस को वीरवार सुबह सूचना मिली थी कि पुरी गैस्ट हाऊस, पोपली गैस्ट हाऊस और सोनू गैस्ट हाऊस में देह व्यापार का धंधा चल रहा है। 
उक्त गैस्ट हाऊस मालिक ग्राहकों को घंटों के हिसाब से कमरे किराए पर देते हैं। सूचना मिलते ही सिटी थाना प्रमुख अमन सैनी, सब-इंस्पैक्टर इकबाल सिंह, ए.एस.आई. बूटा राम, ए.एस.आई. सुखवंत सिंह, ए.एस.आई. जनक राज समेत महिला पुलिस मुलाजिम ने उक्त गैस्ट हाऊस में छापेमारी कर तीनों जोड़ों समेत गैस्ट हाऊस के मालिक को गिरफ्तार कर लिया, जबकि इस दौरान पोपली गैस्ट हाऊस का मालिक फरार हो गया। पुलिस ने छापेमारी के बाद गैस्ट हाऊस पर ताला जड़ दिया है। 

मुलाजिम के खिलाफ मामला दर्ज : थाना प्रमुख
सिटी थाना प्रमुख अमन सैनी ने बताया कि छापेमारी के दौरान सोनू गैस्ट हाऊस के सर्बजीत पुत्र राम लाल निवासी गांव डेहरियां, संदीप निवासी शंकर, गुरचरण पुत्र जगदीश और अमनदीप कौर वासी नकोदर समेत होटल के मालिक प्रीतम बतरा निवासी नकोदर और पोपली गैस्ट में गुरविंद्र सिंह पुत्र जरनैल वासी गांव चक्कचेला, सर्बजीत निवासी रूपेवाल और पोपली गैस्ट हाऊस के मालिक रवि कुमार के खिलाफ थाना सिटी नकोदर में मामला दर्ज किया गया है जबकि छापेमारी के दौरान पुलिस को गैस्ट हाऊस में कुछ भी नहीं मिला।

पूर्व सी.आई.डी. मुलाजिम की शह पर देह व्यापार चलने की चर्चा
नकोदर के एक गैस्ट हाऊस में पूर्व सी.आई.डी. मुलाजिम की शह पर ही यह देह व्यापार का धंधा चल रहा था। यह चर्चा हर किसी की जुबान पर है इसलिए दूसरे शहरों से रंगीन मिजाज लोग अक्सर इस गैस्ट हाऊस में आकर रुकते थे। सूत्रों के अनुसार उक्त गैस्ट हाऊस के मालिक और पूर्व सी.आई.डी. मुलाजिम की ओर से ग्राहकों को पूरा विश्वास दिलवाया जाता था कि उन्हें कोई भी समस्या नहीं आने दी जाएगी। इसी कारण यह धंधा उक्त गैस्ट हाऊस में बड़े जोर-शोर से चल रहा था। सूत्रों के मुताबिक उक्त गैस्ट हाऊस के मालिक सियासी नेताओं की शह पर भी इस अवैध धंधे को अंजाम दे रहे थे। वहीं इनकी कुछ पुलिस मुलाजिमों के साथ भी पूरी सैटिंग थी। पुलिस इसकी भी गहनता से जांच कर रही है। 

जोड़ों से घंटों के हिसाब से किया जाता था चार्ज
सिटी थाना प्रमुख अमन सैनी ने बताया कि जांच करने पर पता चला कि उक्त गैस्ट हाऊस के मालिक मौज-मस्ती करवाने के लिए आने वाले जोड़ों से कमरे का किराया 1800 रुपए प्रति घंटे के हिसाब से वसूलते थे।