कोरोना का कहर : संक्रमित मलेशियाई महिला के संपर्क में आने वाले 23 लोगों को भेजा गया आइसोलेशन वार्ड!

रांची के हिंदपीढ़ी इलाके में कोरोना पॉजिटिव मरीज मिलने के बाद बुधवार को जिला प्रशासन और डॉक्टरों की टीम ने संदिग्धों को क्वारंटाइन (Quarantine) करने के लिए मुहिम चलाई. प्रशासन 29 संदिग्धों की खोज में मुहिम चलाई. इस दौरान जिन पुलिसकर्मियों (Police) पर सर्च अभियान संभालने की जिम्मेवारी थी, वे रेन कोर्ट पहने नजर आए. वहीं चिकित्साकर्मी भी फूल ड्रेस में नजर आए. एसडीएम के नेतृत्व में चले इस अभियान में कुल 23 लोगों आइसोलेशन में भेजा गया. बाकी की तलाश जारी है.
मंगलवार को हिंदपीढ़ी में ठहरी मलेशियन महिला के कोरोना पॉजिटिव होने की पुष्टि हुई. यह राज्य का पहला कोरोना मामला है. इस महिला के संपर्क में आने वाले इलाके के 29 लोगों की जानकारी पुलिस प्रशासन को मिली. बुधवार को प्रशासन की टीम ने इनमें से 23 लोगों कब्जे में लेकर खेलगांव स्थित आइसोलेशन वार्ड भेजा दिया. ये वे लोग हैं, जो संक्रमित मलेशियन महिला के संपर्क में आए. उनके साथ बैठे थे, बातचीत किए थे और खाना खाए थे. इनमें ज्यादातर महिलाएं और बच्चे हैं.

हिंदपीढ़ी के जिस घर में संक्रमित महिला ठहरी थी, वहां से तीन किलोमीटर के दायरे को कंटेनमेंट जोन बनाया गया है. जबकि सात किलोमीटर के दायरे को बफर जोन बनाया गया है. कंटेनमेंट एरिया को पूरी तरह सील कर दिया गया है. वहां किसी के आने-जाने की अनुमति नहीं है. बफर जोन में भी बाहरी व्यक्ति का आना-जाना प्रतिबंधित है. पूरे हिंदपीढ़ी इलाके में कर्फ्यू लगा दिया गया है. आपको बता दें कि बीते सोमवार को इस महिला समेत 17 विदेशी नागरिकों को हिंदपीढ़ी इलाके के मस्जिद से निकालकर प्रशासन ने खेलगांव स्थित आइसोलेशन वार्ड में भेजा था. जांच में यह महिला कोरोना पॉजिटिव पाई गई. मंगलवार रात उसे रिम्स में भर्ती कराया गया.