इस राज्य में लाए गए 55 जमाती, 52 में कोरोना की पुष्टि से मचा हड़कंप

दिल्ली के निजामुद्दीन स्थित तबलीगी जमात के मरकज का कोरोना कनेक्शन सामने आने के बाद से ही पूरे देश में हड़कंप मच गया है। वहीं अब बड़ी खबर सामने आ रही है कि निजामुद्दीन के तबलीगी मरकज से हरियाणा के बढ़ासा आए 55 लोगों में से 52 में कोरोना की पुष्टि हुई है। इससे एक बार फिर से लोगों के बीच हड़कंप मच गया है।

दिल्ली के एम्स में हुई थी सैंपल की जांच
इन सभी लोगों को झज्‍जर के बाढ़सा स्‍थित नेशनल कैंसर इंस्टीट्यूट के रिहायशी सदन में आइसोलेट किया गया है। इन लोगों के जांच के सैंपल दिल्ली के एम्स भेजे गए थे।

निजामुद्दीन से 118 लोगों को लाया गया

यहां निजामुद्दीन से करीब 118 लोगों को मंगलवार दोपहर को लाया गया था। इनमें से 18 लोगों की रिपोर्ट आई थी, जिनमें से 13 लोग कोरोना पॉजिटिव पाए गए थे। वहीं आज यानि गुरुवार को 55 लोगों की रिपोर्ट आई, जिनमें से 52 लोगों में कोरोना की पुष्टि हुई है।

इन 118 लोगों में से अन्य करीब 45 लोगों की रिपोर्ट रात तक आने की उम्मीद है। उन्हें यहां पर बाढ़सा स्थित नेशनल कैंसर इंस्टीट्यूट परिसर में लाया गया है। जानकारी के मुताबिक, उन्हें यहां संस्‍थान के रिहायशी सदन के एक कॉम्पलैक्स में रखा गया है। मिली जानकारी के मुताबिक, दिल्ली एम्‍स में इनकी जांच पॉजिटिव पाई गई है।

इन लोगों को 238 फ्लैट के एक सदन में ठहराया गया

बता दें कि मंगलवार दोपहर बाद दिल्ली से तीन बसों में लगभग 100 लोगों को बाढ़सा स्थित नेशनल कैंसर इंस्टीट्यूट के रिहायशी सदन में लाया गया था। शुरुआती दौर में ये सामने आया था कि दिल्ली के निजामुद्दीन क्षेत्र में सुबह से चल रही प्रक्रिया के तहत ही इन लोगों को यहां पर लाया गया है। इन लोगों को 238 फ्लैट के एक सदन में ठहराया गया है, जहां पर इन लोगों के लिए अलग-अलग कमरों सारे इंतजाम किए गए हैं। लाए गए सभी लोगों से जुड़ी पूरी व्यवस्था एम्स प्रबंधन के स्तर पर की जा रही है।