हाथ काटने के बाद निंहग ASI को उतारने वाला था मौत के घाट, इस लड़के ने ऐसे बचाई ASI की जान

टियाला-सनौर रोड पर सब्जी मंडी में निहंगों द्वारा पुलिस पर हुए हमले की वीडियो दुनियाभर में वायरल हो चुकी है। इसमें एक व्यक्ति ए.एस.आई. हरजीत सिंह का कटा हाथ उठाकर भागता आ रहा है। उसने कटे हाथ को घायल ए.एस.आई. के हाथ में रख दिया। यह  शख्स कोई और नहीं प्रवासी मजदूर शंकर है, जो पटियाला में 20 साल से सब्जी बेचने का काम करता है। वह रोज की तरह शंकर सुबह 6 बजे बड़ी मंडी में सब्जी लेने गया था। 

उसने बताया कि वह सुबह 6 बजे अपना ऑटो लेकर सब्जी मंडी में दाखिल होने वाले वाहनों की लाइन में खड़ा था। उसका नंबर अंदर जाने के लिए मेन गेट के पास लगा ही था कि अंदर से एक तेज रफ्तार गाड़ी आई और ब्रैकेडिंग को तोड़कर बाहर निकलने की कोशिश करने लगी। वह कुछ समझ पाता कि इतने में उस गाड़ी से निहंग हथियार लेकर उतरे और मेन गेट पर खड़े पुलिस मुलाजिमों को मारने लगे। वह एकदम से ऑटो से उतरा, इतने में उसके आगे खड़े ए.एस.आई. हरजीत सिंह पर एक निहंग ने हमला कर दिया।

उसके पास तेजधार तलवार थी । हमले में ए.एस.आई. का हाथ कटने के बाद वह नीचे जमीन पर गिर गए। निहंग सिंह ने तुरंत ऊपर से तलवार उसकी छाती में मारने के लिए दोनों हाथ ऊपर उठाए थे कि उसने तुरंत बिना कुछ सोचे समझे अपने पैरों के पास पड़ी एक ईंट उस निहंग के सिर पर मारी। इसके बाद वो निहंग उसका पीछे भागने लगा। इसके बाद उसने जल्दबाजी से ऑटो को ऊपर से घूमाकर वापस आकर ए.एस.आई. का कटा हाथ उठा लिया। इतने में ए.एस.आई. को मंडी बोर्ड में लगा एक मुलाजिम अंदर ले गया था। वह उस कटे हाथ को लेकर तुरंत अंदर दौड़ा और उस हाथ को उनको पकड़ा कर बाहर आ गया।

अभी निहंगों का आतंक चल ही रहा था, मैंने नीचे से कई ईंट-पत्थर उठाकर निहंगों की गाड़ियों पर मारे। शोर मचाया, इतने में कई लोग इकट्‌ठे होते देख निहंग अपनी गाड़ी में बैठ भाग गए।  शंकर के मुताबिक यह वीडियो वायरल होने के बाद मेरा पूरा परिवार दहशत है। उसके 3 बेटे हैं जो स्कूल में पढ़ते हैं। वह मूलरूप से बिहार का रहने वाला है, इसलिए वहां भी वीडियो पहुंचने के बाद फोन आ रहे हैं। परिजन डर रहे हैं, लेकिन उसे कोई डर नहीं हैं,उसने अपना फर्ज पूरा किया है।