जिस हाथ को हमलावरों ने काटा, उस हाथ को लेकर स्कूटी पर बैठे ASI हरजीत, और कहा...

पंजाब के पटियाला में निहंग सिखों के हमले में घायल ASI हरजीत सिंह ने फर्ज के लिए अपने जान की बाजी लगा दी। कर्फ्यू के दौरान हरजीत ड्यूटी पर थे। रविवार को निहंग सिखों के एक दल ने हमला कर उनका हाथ काट दिया।
वहां तैनात पुलिसकर्मियों के हौसले पस्त होते, इससे पहले हरजीत खुद अपनी जिंदगी बचाने के लिए कटा हाथ लेकर अपनी स्कूटर से ही बिना ऐम्बुलेंस के अस्पताल चले गए।
खबरों के मु‍ताबिक पटियाला शहर में लॉकडाउन के दौरान शांति थी। कुछ समय बाद वहां एक वाहन आया। हरजीत की टीम के पास मांगे जाने के बाद निहंग सिखों ने ड्यूटी पर तैनात जवानों पर हमला किया। इस दौरान कुछ लोगों ने तलवार से हरजीत सिंह का एक हाथ काट दिया।

चंडीगढ़ में हुई सर्जरी-
लहूलुहान हुए हरजीत अपने कटे हाथ को स्‍वयं उठा स्कूटर पर बैठे और कहा अस्‍पताल ले चलो। अस्‍पताल पहुंचने पर जब चिकित्सकों को अपने कटे हाथ और कुछ घंटे पहले की स्थितियां बताई तो सबके होश उड़ गए। तत्‍काल उनके हाथ की सर्जरी की गई।