कोरोना वायरस के समय ये भाईसाहब कर रहे थे ऐसा काम की जानकर आप भी होंगे हैरान...

कोरोना माहमारी से मुकाबला करने के लिए देशभर में लॉक डाउन घोषित है। क्योकि बीमारी का उपाय सिर्फ लॉक डाउन ही है। इस बीमारी की रोकथाम के लिए लॉक डाउन जरूरी है। लेकिन उसके बाद भी ऐसी विकट स्थिति में लोगों की मानवीयता मरी हुई है और चंद रुपए के लाभ के लिए कार में गुटखा भरकर चौगुने दामों पर बेच रहे हैं। थाना प्रभारी अजय सारवान ने बताया कि देशभर में लॉक डाउन की स्थिति लोगों को घर से बाहर निकलने नहीं दिया जा रहा है। वहीं सुबह आठ से १२ बजे तक सब्जी व किराना सामान खरीदने की छूट है। 
इसमें भी लोग इसका गलत फायदा उठाने से बाज नहीं आ रही है। पुलिस की तीन मोबाइल टीम दैनिक आवश्यकता सामग्री लोगों तक पहुंचाने में जुटी है। शहर के मुख्य चौराहों पर नाकाबंदी कर अनावश्यक आने जाने वाले व्यक्तियों की रोकथाम की जा रही है। वहीं प्रशासन लगातार लोगों को घरों रहने के लिए समझाइश दे रहा है। उसके बाद फव्वारा चौक पर एक व्यक्ति द्वारा कार में गुटखा भरकर बेचते हुए पकड़ा गया है। जिसका नाम पुरूषोत्तम वर्मा उर्फ पुन्ना निवासी फव्वारा चौक नीमच है। 
कार में गुटखा भरकर बेचने पर उसकी कार एमपी ४४ सीए १८२१ को भी जब्त कर लिया है। वह लॉक डाउन के दौरान कार में गुटखा, सिगरेट भरकर राजस्व कॉलोनी में सप्लाई कर रहा था। जिसके चलते घर में रह रहे लोगों को भी कोरोना संक्रमित होने की पूर्ण संभावना है। आरोपी पुन्ना उर्फ पुरूषोत्तम पिता धर्मनारायण वर्मा उम्र ३८ वर्ष निवासी फव्वारा चौक को धारा 188, 269, 270 आईपीसी के तहत गिरफ्तार किया गया है।