कोरोना मरीज कह चिढ़ाते थे, टोकने पर काट डाला

यूपी के रायबरेली में जांच के बाद भी परदेश से आये युवक को कोरोना पीड़ित बताकर कमेंट्स कर रहे पडोसियों को उसने टोका तो विवाद बढ़ गया। इससे नाराज पड़ोसियों ने उस पर कुल्हाड़ी से हमला कर दिया जिससे युवक की मौत हो गई। उसे बचाने आए माता-पिता और भाई भी गंभीर रूप से घायल हो गए।
प्राप्‍त जानकारी के अनुसार, बछरावां थानाक्षेत्र के दुलमपुर गांव निवासी सतीश कुमार मिश्रा सोमवार की दोपहर घर के बाहर बैठे थे, तभी छह से अधिक नकाबपोश युवक आए और उन्‍होंने सतीश पर कुल्हाड़ी से हमला कर दिया। उन्हें बचाने दौडे पिता शीतला प्रसाद, मां अनुपमा और भाई मनीष गंभीर रूप से घायल हो गए। हमले में मौके पर ही 30 वर्षीय सतीश की मौत हो गई।

घायलों की हालत गंभीर है
चीख-पुकार सुनकर पहुंचे ग्रामीण को देखकर हमलावर फरार हो गए। सभी घायलों को सीएचसी बछरावां पहुंचाया गया। जहां उन्‍हें गंभीर हालत में जिला अस्पताल रेफर कर दिया गया। सूचना पर पहुंची पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्‍टमॉर्टम के लिए भेज दिया।

मृतक की हो चुकी थी डॉक्‍टरी जांच

मृतक के परिजन का कहना है कि युवक कुछ दिन पहले बाहर से लौटा था, जिसको लेकर उसके पड़ोसी मनोज बाजपेयी कोरोना से संक्रमित होने को लेकर कमेंट करते थे और शिकायत करने की धमकी भी देते थे। युवक की जांच हुई थी और डॉक्टरों की सलाह पर वह घर में ही था। लेकिन पड़ोसी सोमवार को भी उससे कोरोना को लेकर कमेंट करने लगे जिससे विवाद बढ़ा और विरोधियों ने मिलकर हमला कर दिया। बछरांवा थानाध्यक्ष पंकज तिवारी का कहना है कि मामले की जांच की जा रही है। हमलावरों को जल्दी ही गिरफ्तार कर लिया जायेगा।