खुद अपने शरीर में आग लगाने वाली किशोरी की हो गई मौत, जानिए क्यों किया था ऐसा...

भोजपुर जिला के आरा मुफस्सिल थाना क्षेत्र अन्तर्गत महुली गांव में महज पचास रुपये को लेकर उपजे विवाद में खुद अपने शरीर में आग लगाने वाली एक किशोरी की रविवार को मौत हो गई। आग से झुलसी किशोरी ने पटना में इलाज के दौरान दम तोड़ दिया। बाद में शव को यहां लाया गया। थानाध्यक्ष ज्योति कुमारी ने बताया कि फर्दबयान आने के बाद केस होगा। मृतका 13 वर्षीय किशोरी काजल कुमारी महुली गांव निवासी नंद लाल राम की पुत्री थी। वह करीब 80 फीसदी झुलस गई थी। 
बताया जाता है कि महुली गांव निवासी नंद लाल राम दिल्ली में प्राईवेट जॉब करता है। घर पर दो बेटे और एक बेटी अपने दादा और दादी के साथ रहते है। एक रोज पहले शनिवार की दोपहर किशोरी काजल कुमारी ने खुद अपने शरीर पर तेल छिड़क कर आग लिया था। हो-हल्ला होने पर आसपास के लोग जुट गए थे। हालांकि, तब तक वह अस्सी फीसदी झुलस चुकी थी। बाद में मुफस्सिल थाना पुलिस के सहयोग से इलाज के लिए सदर अस्पताल,आरा लाया गया था। जहां, से चिताजनक हालत को देखकर पटना रेफर कर दिया गया था। 

जहां, उसने दम तोड़ दिया। इधर, किशोरी के भाई दीपू ने बताया था कि पड़ोसी की पत्नी उसकी बहन पर पचास हजार रुपये चोरी होने का आरोप लगा रही थी। जिसे लेकर वाद-विवाद हुआ था। मारपीट भी किया गया था। जिससे गुस्साई उसकी बहन ने घर के आंगन में खुद को आग लगा लिया था। घटना के समय वह घर पर नहीं था। बाद में वह घर पहुंचा तो उसकी बहन झुलसी पड़ी थी। इधर, मुफस्सिल थानाध्यक्ष ज्योति कुमारी ने बताया कि शुरुआती जांच में पचास रुपये को लेकर विवाद की बात सामने आई थी। अब फर्दबयान आने के बाद आगे केस दर्ज कर छानबीन की जाएगी।