हिन्दू पुलिस अफसर बना देवदूत मुस्लिम महिला ने अपने बच्चें का नाम ही हिन्दू रख दिया।

कोरोना वायरस से लॉकडाउन के बीच एक उत्तर प्रदेश से एक बड़ा ही दिलचस्प वाक्या समने आया है,वो वाक्या ये है की एक मुस्लिम महिला ने अपने नवजात शिशु को जन्म देने के बाद उसका नाम एक हिन्दू पुलिस ऑफिसर के नाम पर रख दिया, और इससे भी बड़ी आशचर्य की बात ये है कि ये वाक्या उस राज्य में हुआ है जहां के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ है।
दरअसल हुआ ये की उत्तर प्रदेश में बरेली के इज्जत नगर में रहने वाली एक महिला तमन्ना अली खान 9 महीने से गर्भवती थी लेकिन उनके पति अनीश खान को 10 दिन पहले ही काम के शीलशीले में नोएडा जाना पड़ा।

और उनके पति लॉकडाउन के कारण नोएडा में ही फसे रह गए, और इसी बीच गर्भवती महिला तमन्ना अली खान को लेबर पैन उठने लगा और इस समय महिला को उनके पति की सख्त जरूर थी, और बोहत इन्तेजार करने के बाद भी जब इनके पति इन्हें हॉस्पिटल ले जाने नही आये तब इस महिला ने सोशल मीडिया पर एक वीडियो बना कर अपनी सारी परिस्तिथि बता दी और इस वीडियो को पोस्ट कर दिया,

और जब ये वीडियो बरेली पुलिस को मिला और इस वीडियो को बरेली के एसएसपी शैलेष पांडे ने देखते उस गर्भवती महिला को फोन कर के अपना पता पूछा और ऑन द स्पॉट उस महिला को हॉस्पिटल पहुचाया गया और इस महिला से इनके पति अनीश खान का कांटेक्ट नंबर ले कर तुरंत इनके पति से बात की।

और फिर पोलिस ऑफिसर शैलेष पांडे ने नोएडा के एसीपी रणविजय सिंह से बात की और ए सी पी रणविजय ने उनके पति अनीश खान को रातो रात नोएडा से बरेली सही सलामत भिजवा दिया।

महिला तमन्ना अली खान ने बरेली पुलिस का धन्यवाद दिया।

और फिर महिला ने एक नवजात बालक शिशु को जन्म दिया तो अपने नवजात शिशु का नाम ही उस पुलिस अफसर के नाम पर रख दिया जो उनके पति को नोएडा से रातो रात बरेली ले कर आये थे। शिशु का नाम ही रणविजय खान रखने का फैसला कर लिया।