तब्‍लीगी जमाती बोला- मुझे छोड़ दो, नहीं तो गोली मार दूंगा, परांठे खाकर हो गया शांत

दिल्ली के निजामुद्दीन तब्लीगी मरकज से लौटे युवकों सहित उनके संपर्क में आए लोगों को जिला प्रशासन की तरफ से पहचान कर जिला नागरिक अस्पताल के आइसोलेशन वार्ड में दाखिल किया है। वार्ड नंबर 128 में दाखिल व्यक्ति ने बुधवार रात को अस्पताल में हंगामा किया।
बृहस्पतिवार सुबह जब स्टाफ सदस्य खाने लेकर गए तो उक्त व्यक्ति ने वापस भेज दिया। कहा कि ये खाना उन्हें पसंद नहीं है, इसलिए वे ऐसा खाना नहीं खाएंगे। इसे लेकर जब स्टाफ नर्सों ने समझाने का प्रयास किया तो उन्हें भी धमकी देनी शुरू कर दी। एक स्टाफ नर्स ने इस बारे में बताया कि व्यक्ति के व्यवहार से स्टाफ में भय का माहौल है और वार्ड से भागने का भी प्रयास व्यक्ति कर रहा है। गोली मारने की धमकी दी जा रही है।

इस कारण वार्ड में कोई भी जाने से डर रहा है। चिकित्सकों ने मामले को लेकर अस्पताल के पुलिस थाना में सूचना दी। चौकी के पुलिस कर्मचारियों ने वार्ड के बाहर खड़े होकर युवक को समझाते हुए शांत किया। परांठे खिलाए तो वह शांत हो गया।

सुबह उठते ही मांगे परांठे

चिकित्सकों ने बताया कि इस युवक ने खाने को लेकर रात करीब खाने को लेकर हंगामा कर दिया। आइसोलेशन वार्ड से निकलकर वह बाहर भागने का प्रयास करता रहा। जमकर तमाशा किया। सुबह भी उसका यह रवैया जारी रहा। सुबह जब उसने खाना नहीं खाया तो एक चिकित्सक ने अपने घर पर परांठे बनवाते हुए अस्पताल पहुंचाएं, जो युवक के वार्ड में पहुंचाएं गए।

आइसोलेशन में कुल 16 दाखिल

जिला अस्पताल के आइसोलेशन वार्ड में कुल 16 लोगों को रखा गया है। इनमें दिल्ली के निजामुद्दीन मरकज से लौटे व्यक्तियों सहित उनके संपर्क में आए लोग शामिल हैं। सभी के खून के सैंपल लेकर जांच के लिए लैब में भेजे गए हैं। शुक्रवार तक रिपोर्ट आने की संभावना है। जिला नागरिक अस्पताल और गुहला के सिविल अस्पताल में अलग से वार्ड बनाए गए हैं। गुहला में बुधवार शाम को दिल्ली से लौटे एक अन्य युवक को भी पकड़कर पुलिस ने आइसोलेट किया है।