तबलीगी जमात के खिलाफ बोलने पर युवक को मार दी गोली, बुलाई गई फ़ोर्स

यूपी के प्रयागराज से दिल दहला देने वाली घटना सामने आई है। यहां पर एक युवक को केवल इसलिए गोली मार दी क्योंकि उसने चाय की दुकान पर चर्चा के दौरान तबलीगी जमात के खिलाफ टिप्पणी की थी। घटना के बाद से इलाके में भारी फ़ोर्स तैनात हैं। पुलिस हमलवार की तलाश में जुट गई है।
प्राप्त जानकारी के मुताबिक मोड़ा गांव निवासी लोटन निषाद रविवार सुबह करीब साढ़े नौ बजे किसी काम से घर से बाहर निकला था। वह एक चाय की दुकान पर था। तभी उसने जमातियों पर टिप्पणी कर दी। इसको लेकर गांव के ही मोहम्मद सोना से उसका विवाद हो गया। दोनों के बीच मारपीट भी हुई। इससे गुस्साए मोहम्मद सोना ने तमंचे से लोटन पर फायर कर दिया।

गोली लगने से लोटन निषाद की मौत हो गई। फायरिंग की आवाज सुनकर आसपास के लोग दौड़े और मोहम्मद सोना को पकड़कर उसकी पिटाई की। सूचना पाकर पहुंची पुलिस ने आरोपी को हिरासत में लिया है। गांव में शांति बनाए रखने के लिए पुलिस फोर्स तैनात है।

8 और 9 अप्रैल को मुस्लिम लोगों को घरों में रहने की अपील
कोरोनावायरस  के चलते पूरे देश में लॉकडाउन है। इसे देखते हुए लोगों से जब तक जरूरी न हो घर से नहीं निकलने के लिए कहा गया है। साथ ही एक जगह पर एकत्र नहीं होने का भी निर्देश दिया गया है।

लॉकडाउन के बीच, दिल्ली पुलिस ने शब-ए-बारात यानी 8 और 9 अप्रैल को मुस्लिम लोगों से घर से बाहर नहीं निकलने की अपील की है। इसके लिए एक पोस्टर भी जारी किया गया है। वहीं, दिल्ली पुलिस निजामुद्दीन में जबलीगी जमात के कार्यक्रम में शामिल लोगों को सेल डेटा के जरिये ढूंढ रही है।

दिल्ली पुलिस मरकज़ में आये लोगों की पहचान में जुटी

दिल्ली पुलिस के सूत्रों ने बताया, “दिल्ली पुलिस की क्राइम ब्रांच मैपिंग के जरिये मरकज़ आये लोगों की पहचान कर रही है। जिनकी मोबाइल की GPS लोकेशन कई दिन तक मरकज़ के आसपास आ रही रही है ,ऐसे लोगों की पहचान की जा रही है। मैपिंग प्रक्रिया में अन्य राज्यों की पुलिस दिल्ली पुलिस की क्राइम ब्रांच की मदद कर रही है।”