निजामुद्दीन: तबलीगी जमातियों की पकड़ी गई बड़ी चालाकी, एक्शन में आया गृहमंत्रालय

राजधानी दिल्ली के निजामुद्दीन मरकज में हुए मजहबी जलसे में शामिल हुए कुछ लोगों की कोरोना वायरस से मौत और कई के संक्रमित होने के बाद अचानक से तबलीगी जमात सुर्खियों में आ गया है। इसी के साथ जमात के लिए विदेश से आने वालों की एक चालबाजी भी पकड़ी गई है।
निजामुद्दीन जमात के बाद यह सामने आया है कि विदेश से जलसों में आने वाले तमाम जमाती टूरिस्ट वीजा पर भारत आते हैं और यहां मजहबी गतिविधियों में हिस्सा लेते थे। अब केंद्र सरकार ने सख्त रुख अपनाते हुए तय किया है कि तबलगी गतिविधियों के लिए विदेश से आने वालों को आगे से टूरिस्ट वीजा जारी नहीं किया जाएगा।

निजामुद्दीन का मामला सामने आने के बाद तबलीगी जमात के देश के बाकी मरकजों में भी विदेश से आए लोगों का पता चला है। तेलंगाना से लेकर यूपी और झारखंड तक तमाम राज्यों में कई मस्जिदों से अब तक 700 से ऊपर विदेशी पकड़े गए हैं। इनमें से ज्यादातर टूरिस्ट वीजा पर भारत आए हैं।

इस खुलासे के बाद केंद्र सरकार ने स्पष्ट किया है कि टूरिस्ट वीजा पर आए वे लोग जो मिशनरी गतिविधियों में लिप्त पाए गए हैं उन्हें वीजा नियमों का उल्लंघन करने वाला माना जाएगा और उसी हिसाब से उनके खिलाफ कार्रवाई होगी।