कर्फ्यू ड्यूटी पर तैनात पुलिस कर्मियों को खिलाया जा रहा है चिकन और पनीर, जानिए क्यों

वैश्विक महामारी कोरोना वायरस कोविड-19 का मुकाबला करने के लिए कर्फ्यू ड्यूटी पर तैनात पुलिस कर्मचारियों को तंदरूस्त रखने के लिए प्रोटीन से भरपूर आहार प्रदान किया जा रहा है। एक अनूठी पहल करते हुए जालंधर (ग्रामीण) पुलिस ने अपने जवानों को चिकन, पनीर, दूध, गुड और अन्य पोषक तत्वों से भरपूर सामग्री उपलब्ध करा रही है। जालंधर (ग्रामीण) पुलिस जिले के एक बड़े हिस्से को कवर करती है जिनमें करतारपुर, भोगपुर, आदमपुर, गोराया, फिल्लौर, शाहकोट, नूरमहल, नकोदर, मालसियां और अन्य शामिल हैं। 
इन थानों में तैनात पुलिसकर्मी कफ्र्यू लगाने के बाद से चौबीसों घंटे ड्यूटी दे रहे हैं, इसलिए अब वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक नवजोत सिंह माहल की व्यक्तिगत पहल से उन्हें अपनी प्रतिरक्षा को बढ़ावा देने के लिए प्रोटीन और पोषक तत्वों से भरपूर आहार प्रदान किया जा रहा है। वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक नवजोत सिंह माहन ने गुरुवार को बताया कि कफ्र्यू लगाने के बाद से पुलिस तनावपूर्ण परिस्थितियों में ड्यूटी दे रही हैं। उन्होंने कहा कि एक ओर वे कफ्र्यू को सख्ती से लागू करना सुनिश्चित कर रहे हैं और दूसरी अन्य वे स्वयं कोरोना वायरस की ओर खुले प्रदर्शन से अपनी जान जोखिम में डाल रहे हैं। माहल ने कहा कि ऐसी परिस्थितियों में उनकी प्रतिरक्षा प्रणाली को मजबूत करने के लिए यह समय की आवश्यकता है कि उन्हें पोषक तत्वों से भरपूर आहार प्रदान किया जाए। 

वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक ने कहा कि पुलिस को वैकल्पिक दिनों में पनीर, दूध, गुड और अन्य पोषक तत्वों से भरपूर आहार दिया जा रहा है। उन्होंने कहा कि जालंधर ग्रामीण में पडऩे वाले सभी पुलिस थानों में इस हिसाब से रोटेशन चार्ट तय किया गया है। महल ने कहा कि आने वाले दिनों में इस तरह के और प्रयास किए जाएंगे कि पुलिस कोरोना वायरस का प्रभावी ढंग से मुकाबला कर सके और अपने कर्तव्य का निर्वहन अच्छी तरह से कर सके।