कोरोना के कहर के बीच गांव पहुंचा फौजी, पत्नी को उतारा मौत के घाट

भारत में कोरोना वायरस के मरीजों की संख्या में हर रोज इजाफा हो रहा है। इस बीच इससे निपटने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने जो 21 दिनों के लॉकडाउन का ऐलान किया है। वहीं बटाला में कोरोना के कहर के बीच छुट्टी पर आए फौजी ने गांव पहुंचकर पत्नी को मौत के घाट उतार दिया।
इस संबंधी थाना सेखवां के एस.एच.ओ. लखविन्द्र सिंह ने बताया कि सतनाम सिंह पुत्र अजैब सिंह निवासी जफरवाल ने अपने बयान में बताया कि मेरी लड़की संदीप कौर का विवाह 2 वर्ष पहले गांव सेखवां के शमशेर सिंह पुत्र सतनाम सिंह के साथ हुआ था, जो फौज में नौकरी करता है और उसकी एक बेटी भी है। 
विवाह के कुछ समय बाद ही उसके पति और सास ने उसे परेशान करना शुरू कर दिया। उनका कहना है कि कुछ दिन पहले ही दामाद फौज से छुट्टी पर आया था, जिसने मेरी लड़की को कोई विषैली चीज देकर मौत के घाट उतार दिया।
एस.एच.ओ. ने बताया कि लड़की के पिता के बयान पर उसके पति शमशेर सिंह व सास कुलवंत कौर के खिलाफ केस दर्ज कर लिया है और शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। पोस्टमार्टम की रिपोर्ट में जो तथ्य सामने आएंगे उसके आधार पर अगली कार्रवाई की जाएगी।