एक मात्र भारतीय कारोबारी जिस पर लॉकडाउन का नहीं पड़ा असर

कोरोना वायरस के मद्देनजर लॉक डाउन का देश के कारोबार पर गहरा असर पड़ा है. इस दौरान कई कारोबारियों की संपत्ति में गिरावट आयी है. एक रिपोर्ट में कहा गया है कि रहा राधाकिशन दमानी मात्र ऐसे कारोबारी हैं जिनके कारोबार पर लॉक डाउन कुछ ख़ास असर नहीं दाल पाया है. एवेन्यू सुपरमार्ट्स लिमिटेड को चलाने वाले राधाकिशन दमानी की संपत्ति इस साल 5 फीसदी बढ़कर 10.2 बिलियन डॉलर हो गई है.
ब्लूमबर्ग बिलियनेयर्स इंडेक्स के अनुसार दमानी 12 सबसे अमीर भारतीयों में से एकमात्र अरबपति हैं, जिन्हें लाभ हुआ है. दमानी ने अपनी वेल्थ में यह इजाफा ऐसे वक्त में देखा है जब मुकेश अंबानी और उदय कोटक को महामारी से होने वाला आर्थिक नुकसान डरा रहा है. क्योंकि देश पूरी तरह लॉक डाउन पर है.

सोमवार को एक रिपोर्ट में कहा गया है कि भारत के सबसे अमीर व्यक्ति मुकेश अंबानी की नेटवर्थ दो महीने में 28 प्रतिशत घटकर 31 मार्च को 48 बिलियन डॉलर हो गई.रिलायंस इंडस्ट्रीज के चेयरमैन ने फरवरी-मार्च की अवधि में अपनी संपत्ति में 19 अरब डॉलर की गिरावट देखी है.

अन्य भारतीय व्यवसायी जिन्होंने दौलत में बड़ी गिरावट देखी है, उनमें गौतम अडानी शामिल हैं जिनकी संपत्ति 6 बिलियन डॉलर या 37 प्रतिशत घट गई है, एचसीएल टेक्नोलॉजीज के शिव नादर (5 बिलियन या 26 प्रतिशत) और बैंकर उदय कोटक (1 बिलियन डॉलर या 28 प्रतिशत) शामिल है. लीग में एकमात्र भारतीय के रूप में अंबानी को छोड़कर तीनों शीर्ष 100 की सूची से बाहर हो गए हैं.