पहली बार पोते संग टीवी के ‘राम’ ने देखी ‘रामायण’, देखें कैसे था उनके बच्चों का रिएक्शंस!

महामारी कोरोनावायरस के संकट से आज पूरी दुनिया जूझ रही है। भारत में 21 दिनों का लॉकडाउन है और पूरा देश अपने-अपने घरों में समय बिता रहा है। इस दौरान ब्रॉडकास्ट मंत्रायल द्वारा दूरदर्शन के साथ पॉपुलर सीरियल रामायण का री-टेलीकास्ट कराया गया। साल 1987 में आए रामानंद सागर की रामायण में लीड एक्टर श्रीराम का किरदार एक्टर अरुण गोविल ने निभाया था। ये शो सुबह 9 बजे और रात 9 बजे प्रसारित किया जाता है और देशभर के लोगों के साथ खुद अरुण गोविल भी अपने परिवार के साथ रामायण का मजा लेते हैं।
33 सालों के बाद टीवी पर रामायण प्रसारित हुआ और इस शो को दोबारा टीवी पर देखकर दर्शक काफी उत्साहित हो गए। वे लगातार शो से संबंधित तस्वीरें और वीडियो सोशल मीडिया पर शेयर कर रहे हैं। इसी बीच रामायण में राम का किरदार निभाने वाले एक्टर अरुण गोविल की एक तस्वीर भी वायरल हुई है जिसमें वे अपने पूरे परिवार के साथ रामायण देखते नजर आ रहे हैं। जिस समय अरुण गोविल ने ये शो किया था तब वे काफी यंग थे लेकिन आज 62 साल की उम्र में अपने परिवार के साथ इस सीरियल को देखते हुए वे काफी आनंदित नजर आ रहे हैं।
इस तस्वीर को वीडियो मूवी अकाउंट ने शेयर किया है जिसमें अरुण गोविल, उनकी पत्नी, बेटा-बहू और पोता एक साथ रामायण देख रहे हैं। इस तस्वीर को सोशल मीडिया पर खूब पसंद किया जा रहा है और इसके साथ ही लोग अपने-अपने तरीकों से कमेंट्स भी कर रहे हैं। ‘रामायण’ का टेलीकास्ट 28 मार्च की सुबह 9 बजे हुआ और अब हर दिन दो समय इस शो को दिखाया जा है। इसमें खास बात ये है कि जब अरुण गोविल के इस पौराणिक शो की टीवी पर कमबैक की खबरें फैलीं तो उस समय अभिनेता ने मीडिया से कहा था इस बार ये सो अपने पोते के साथ देखूंगा। रामायण के टेलीकास्ट होने पर अरुण गोविल ने अलग-अलग मीडिया चैनल्स से बात की। 
अरुण गोविल ने इस बारे में कहा, ‘मैं इस शो को लेकर काफी उत्साहित हूं। रामानंद सागर का रामायण तब भी लोगों को खूब पसंद आया था और आज भी पसंद आएगा। इसके पीछे ईश्वर का ही आशीर्वाद है जो फिर से रामायण दर्शकों के सामने आया।’ इसी बारे में बात करते हुए अरुण गोविल ने आगे कहा, ‘वरना इतने सालों बाद टीवी पर आखिर क्यों इसकी वापसी होती। हमारा देश इस समय कोरोनावायरस जैसी भयंकर महामारी जैसे कठिन दौर से गुजर रहा है। अगर हमारे शो से लोगों को भगवान की मदद मिलती है और कुछ सीखने को मिलता है तो ये बहुत अच्छी बात है। ईश्वर से प्रार्थना करता हूं कि लोग अपनी आस्था का ख्याल रखें और सरकार के नियमों का पालन करें।’