मधुबनी, कैमूर, सिवान में सामूहिक नमाज: मस्जिद के बाहर लाठी लेकर औरतें दे रही थी पहरा

कोरोना वायरस संक्रमण पर काबू पाने के लिए देशभर में 14 अप्रैल तक लॉकडाउन है। इसका उल्लंघन कर बिहार के मधुबनी, कैमूर और सिवान ​में शुक्रवार को सामूहिक रूप से नमाज अदा की गई। कैमूर में रोके जाने पर पथराव हुआ तो मधुबनी में समुदाय विशेष की औरतें मस्जिद के बाहर लाठी और मिर्च पाउडर लेकर पहरा दे रही थीं।
मीडिया रिपोर्ट के अनुसार मधुबनी जिले के अंधाराठाढ़ी प्रखंड के हरना गॉंव में सामूहिक रूप से नमाज अदा की गई। यहॉं से तबलीगी जमात के 11 सदस्य क्वारंटाइन में भेजे गए हैं। बताया जाता है कि वे भी नमाज में शामिल थे। पुरुष जब भीतर नमाज अदा कर रहे थे दर्जनों औरतें लाठी और मिर्च पाउडर लेकर बाहर खड़ी थीं।

सिवान के महाराजगंज के सिकटिया पंचायत के खानपुरा गॉंव की मस्जिद में भी शुक्रवार को नमाज अदा की गई। करीब 50 लोग इसमें शामिल हुए। मस्जिद के इमाम के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज कराए जाने की खबर है।

इसी तरह की घटना कैमूर जिले के मोहनियाँ थाना क्षेत्र स्थित अहिनौरा गाँव से भी सामने आई है। वहॉं की मस्जिद में दोपहर के वक्त नमाज पढ़ने के लिए बड़ी संख्या में लोग जुट गए। सूचना मिलने पर पुलिस पहुॅंची। नमाजियों को चेतावनी देकर उनके घर भेज दिया। इसके बाद शाम में फिर बड़ी संख्या में लोग मस्जिद पहुॅंच गए। इस बार विरोध करने पर दो पक्षों के बीच मारपीट और पथराव हुआ।

महाराजगंज की सिकटिया पँचायत के खानपुरा गाँव की मस्जिद में भी शुक्रवार को करीब 50 लोगों ने एकत्रित होकर जुमे की नमाज अदा की। पुलिस ने इमाम के खिलाफ एफआईआर दर्ज कराई है।

उल्लेखनीय है कि कोरोना वायरस के संक्रमण से बचने के लिए सोशल डिस्टेंसिंग सबसे कारगर उपाय है। लोगों से एक जगह इकट्ठा नहीं होने की अपील प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी कर चुके हैं। मुस्लिम धर्मगुरुओं ने भी सामूहिक रूप से नमाज नहीं पढ़ने की अपील की है। बावजूद इसके इस तरह की घटनाओं का सिलसिला थम नहीं रहा।

शुक्रवार को ही उत्तर प्रदेश के में एक मकान की छत पर जुमे की नमाज अदा करने के लिए जुटान हुआ था। पुलिस रोकने पहुॅंची तो उस पर हमला कर दिया गया। इसमें कई पुलिसकर्मी जख्मी हो गए। इससे पहले अलीगढ़ की एक मस्जिद में गुरुवार की रात मस्जिद में नमाज पढ़ने के लिए लोग जुटे थे। यहॉं भी पुलिस पर हमला किया गया था। बुधवार को मुजफ्फरनगर से लॉकडाउन का पालन कराने पहुँची पुलिस टीम पर हमले की खबर आई थी। सहारनपुर के जमालपुर गाँव में भी नमाज पढ़ने को लेकर मस्जिद के बाहर इकट्ठा भीड़ को हटाने और छह लोगों को हिरासत में लेने पर लोगों ने पुलिस पर हमला कर दिया था। लाठी-डंडों का प्रयोग कर पकड़े गए लोगों को छुड़वा लिया था।

बिहार के मधुबनी की एक मस्जिद में सामूहिक नमाज रुकवाने पहुॅंची पुलिस को समुदाय विशेष की भीड़ ने एक किमी तक खदेड़ दिया था। जमकर पत्थरबाजी की थी। फायरिंग की और पुलिस की जीप को तलाब में पलट दिया था। के अहमदाबाद स्थित गोमतीपुर में भी भीड़ ने पुलिस पर पत्थरबाजी की थी। गोमतीपुर में पुलिस उन लोगों की तलाश में गई थी, जिन्होंने तबलीगी जमात के कार्यक्रम में हिस्सा लिया था।