प्रेमिका की कनपटी में तमंचा सटा मारी गोली फिर उसकी गोद में सिर रख प्रेमी ने खुद को दी दर्दनाक मौत

फतेहपुर के गाजीपुर थानाक्षेत्र के एक गांव में सोमवार की देर रात एक जर्जर कोठरी से प्रेमी युगल के शव मिले। पुलिस का मानना है कि प्रेमी द्वारा प्रेमिका की हत्या के बाद खुद को गोली मारी है। हालांकि युवक की मां ने प्रेमिका के परिजनों पर हत्या का शक जताया है। पुलिस ने दोनों के शव पोस्टमार्टम के लिए भेज दिए।
पुलिस के मुताबिक अयाह ग्राम पंचायत के एक गांव में इंटर पास 22 वर्षीय युवक दो साल से दिल्ली में जूता फैक्टरी में काम करता था। वह होली पर गांव आया था। गांव की इंटर पास बीस वर्षीय युवती से उसका एक साल से प्रेम प्रसंग चल रहा था। दोनों अलग-अलग बिरादरी थे। दोनों के घरों में करीब 50 मीटर की दूरी है। दोनों घरों के बीच युवक के परिवार की पुरानी कोठरी है। उसमें भूसा रखा जाता है।
प्रेम प्रसंग का पता चलने पर दोनों परिवार बेटे और बेटी को मिलने से रोकने लगे। युवती अपने भाई के मोबाइल से बातचीत करने में पकड़ी गई थी। उनका पांच दिन से मिलना बंद हो गया था। पुलिस की पूछताछ में सामने आया कि युवक घर से रात आठ बजे निकला था। रात दस बजे युवती घर से लापता हो गई।  युवती के लापता होने पर परिजन उसकी तलाश में जुट गए। वे युवक के घर पहुंचे।
युवक की मां ने बताया कि तीन-चार लोग थे, उससे लड़के के बारे में पूछा और धमकाया। खोजबीन के दौरान रात तीन बजे कोठरी से फायर की आवाज सुनाई दी। लड़की का भाई और कुछ अन्य लोग कोठरी पहुंचे। हालात देखकर दंग रह गए। उन्होंने 112 नंबर पर पुलिस को सूचना दी। मौके पर पहुंची पुलिस ने लड़की की गोद में लड़के को पड़ा पाया। लड़के के दाहिने हाथ की अंगुली में तमंचा फंसा था। एक खाली कारतूस का खोखा पड़ा था।
लड़के की दाहिनी कनपटी से गोली पार हो गई थी। भूसे के ढेर से सटकर बैठी युवती के बाई कनपटी में गोली लगी थी। पुलिस का अनुमान है कि कोठरी में युवक ने पहले युवती को गोली मारी और बाद में खुद को गोली मार ली। सूचना पर एसपी प्रशांत वर्मा समेत पुलिस अधिकारी पहुंचे। एएसपी राजेश कुमार ने बताया कि युवक ने महिला मित्र के साथ गोली मारकर आत्महत्या की है। दोनों पक्षों की ओर से आत्महत्या की तहरीर पर कार्रवाई की जा रही है। लड़के की मां ने लड़की के परिजनों पर शक जताया है, लेकिन प्रार्थनापत्र नहीं दिया।