पूरे गांव में अकेली रहती है फिर भी खुद के लिए शराब का बार चलाती है ये अम्मा!

वह पूरे गांव में अकेली रहती है। ​उसके बावजूद वह शराब का बार चलाती है। बार की ग्राहक और मालकिन दोनों ही वह है। क्या वह पैसे देकर शराब का पैग बनाती है और खुद ही पी लेती है! हां, कभी—कभी वह ऐसा भी करती है लेकिन ज्यादातर समय वह गांव में आने वाले पर्यटकों को शराब सर्व करती है। 84 वर्षीय बुजुर्ग महिला एल्सी के गांव का नाम मोनोवी है जो अमेरिका के नेब्रास्का राज्य में स्थित है। एल्सी इस गांव में इसलिए अकेली रहती हैं ताकि कोई भी उनके गांव को भूतिया गांव न कहें। वह गांव का पानी और बिजली का 500 डॉलर टैक्स भी भरती हैं।
एल्सी को सरकार की तरफ से सार्वजनिक स्थानों की देख-रेख के लिए कुछ पैसे भी मिलते हैं, जिनका खर्च वह स्वयं ही तय करती हैं कि राशि को कहां और कैसे खर्च करना है, क्योंकि इस गांव की वह एकलौती नागरिक होने के नाते गांव की मेयर, क्लर्क और ऑफिसर सबकुछ हैं। मोनोवी गांव पहले से ऐसा नहीं है, 1930 तक यहां लगभग 150 लोग रहा करते थे। लेकिन अब यह गांव सिर्फ एल्सी का घर है। करीब 54 हेक्टेयर तक फैला यह गांव पहले आबाद हुआ करता था। जानकारी के मुताबिक, साल 1930 में यहां लगभग 150 लोग रहते थे, लेकिन इसके बाद धीरे-धीरे आबादी घटनी शुरू हो गई। साल 1980 तक भी इस गांव में 18 लोग थे, लेकिन साल 2000 आते-आते यहां सिर्फ दो लोग बचे, एल्सी आइलर और उनके पति रूडी आइलर। 2004 में रूडी आइलर की भी मौत हो गई, जिसके बाद से एल्सी अब अकेली ही इस गांव में रहती हैं।

एल्सी का बचपन इसी गांव में गुजरा है और 19 साल की उम्र में उन्होंने अपने एक स्कूली दोस्त के साथ शादी भी की थी। स्कूल से निकलने के बाद उन्होंने अमेरिकी एयर फोर्स भी ज्वॉइन की हुई है, लेकिन जब गांव की आबादी घटने लगी तो एल्सी ने गांव की देख-रेख करने के बारे में सोचा। एल्सी के दो बच्चे हैं, लेकिन वह भी काम करने के लिए गांव से बाहर चले गए। फिलहाल, एल्सी एक बार चलाती हैं। एल्सी के बार में दुनियाभर से कई पर्यटन आते हैं और प्राकृतिक सुंदरता का आनंद लेते हैं। एल्सी ने अपने बार में मदद के लिए किसी को भी नहीं रखा है। जो लोग यहां आते हैं, वे इस बार में रुकते हैं।