इंदौर में फिर से मेडिकल टीम पर हुआ हमला, CM शिवराज ने अफसरों से मांगी रिपोर्ट, आरोपी हुए गिरफ्तार

मध्य प्रदेश के इंदौर के पलासिया इलाके में कोरोना सर्वे (COVID-19) करने गई मेडिकल टीम पर हमला करने वाले आरोपी पारस बोरसी को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है. हमले की इस घटना को लेकर तीखी प्रतिक्रिया हुई है. मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने तत्काल अफसरों से घटना की पूरी जानकारी मांगी. इसके तुरंत बाद अफसर हरकत में आए और फौरन मौके पर पहुंचे. इस हमले में एक स्वास्थ्य कर्मचारी घायल हुआ है.
इंदौर के विनोबा नगर में कोरोना मरीज पाए जाने के बाद मेडिकल टीम सर्वे के लिए गयी थी. इस दौरान इलाके के गुंडे पारस बारसी का कुछ लोगों से विवाद हो गया. उसने एक महिला समेत तीन लोगों पर चाक़ू से हमला कर दिया. अपने कार्य के लिए वहां पहले से मौजूद महिला स्वास्थ्यकर्मी के साथ भी पारस ने विवाद और मारपीट की. उसने महिला कर्मी का मोबाइल छीनकर तोड़ दिया. 
महिला स्वस्थ्यकर्मी का आरोप है कि उसका गला भी दबाया गया. घटना की खबर मिलते ही मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने तत्काल इंदौर के अफसरों से इसकी जानकारी ली. सीएम के जानकारी लेने के तुरंत बाद अफसर हरकत में आए. कलेक्टर मनीष सिंह, डीआईजी हरिनारायण चारी मिश्रा सहित तमाम वरिष्ठ अफसर मौके पर पहुंचे और हालत का जायजा लिया.
मेडिकल टीम के हेड प्रवीण के मुताबिक इलाके में सर्वे कर रही टीम के साथ इलाके के गुंडे ने अभद्रता और मारपीट की. महिला कर्मचारी का मोबाइल फोन छीन कर तोड़ दिया. हमले के वक्त आरोपी बेहद नशे की हालत में था. पुलिस अधीक्षक युसूफ कुरैशी के मुताबिक घटना की जानकारी मिलते ही इलाके में अलग-अलग पुलिस टीमें गठित की गई थीं. हमला करने वाले आरोपी पारस बोरसी को वारदात के कुछ घंटे बाद ही गिरफ्तार कर लिया गया. उन्होंने कहा कि आरोपी पर कड़ी कार्रवाई की जाएगी.