NRI'S से भरी बस के पैट्रोल पम्प पर रुकते ही स्टाफ के हाथ-पांव फूले

जालंधर बाईपास चौक के नजदीक पड़ते पंजाब एग्रो पैट्रोल पम्प पर स्थिति उस समय गंभीर बन गई जब विदेशी सैलानियों (गोरे-गोरियों) सहित पंजाबी एन.आर.आइज से भरी एक प्राइवेट बस में सवार व्यक्ति पम्प पर बने वाशरूम में जाने के लिए थोड़ी देर के लिए रुक गए।
इस दौरान पैट्रोल पम्प पर तैनात स्टाफ उन्हें देखते ही नोजल (तेल भरने वाली मशीनों) को छोड़ कर गायब हो गया और पम्प पर सन्नाटा पसर गया। शायद यह सब कोरोना वायरस की दहशत की देन है कि जो भारतीय पहले गोरे-गोरियों के साथ फोटो खिंचवाने व सैल्फी लेने के लिए उतावले दिखाई देते थे आज उक्त जानलेवा बीमारी के कारण उन्हें देख कर भाग खड़े हो रहे हैं।

पम्प के स्टाफ द्वारा पुलिस को सूचित करने पर पी.सी.आर. मोटरसाइकिल सवार ए.एस.आई. सतनाम सिंह व एक हैड कांस्टेबल मौके पर पहुंचे और उन्होंने पम्प पर तैनात स्टाफ के साथ बातचीत करने सहित मौके पर मौजूद विदेशी सैलानियों एवं एन.आर.आइज को सोशल डिस्टैंस मेनटेन करने की नसीहत दी। बस के ड्राइवर जसवंत सिंह ने बताया कि उक्त यात्री अमृतसर, जालंधर, फगवाड़ा, लुधियाना व खन्ना में बीते दिनों आए थे जोकि अब अपने देशों में जाने के लिए एक विशेष प्लेन द्वारा दिल्ली एयरपोर्ट से शुक्रवार को रवाना होंगे।