पाकिस्‍तान के इस्‍लामाबाद में बनेगा पहला हिंदू मंदिर, श्री कृष्ण मंदिर होगा नाम, इमरान खान सरकार देगी 10 करोड़!

पाकिस्तान के इस्लामाबाद में पहला हिंदू मंदिर बनने जा रहा है। 10 करोड़ रुपये की लागत से बनने वाले भगवान श्री कृष्ण के मंदिर का निर्माण कार्य भी शुरू हो गया है। जानकारी के मुताबिक, मंदिर राजधानी के एच-9 क्षेत्र में 20 हजार वर्ग फुट में बनाया जाएगा।
मंदिर के लिए भूमि पूजन समारोह मंगलवार को मानवाधिकार के संसदीय सचिव लाल चंद मल्ही द्वारा किया गया था। सभा को संबोधित करते हुए मल्ही ने कहा कि इस्लामाबाद और उसके आस-पास के इलाकों में 1947 से पहले की कई मंदिर थे, जिनमें एक सैदपुर गांव और एक कोरंग नदी के पास है। हालांकि, उनका उपयोग नहीं किया जाता है।
डॉन समाचार के मुताबिक, इस्लामाबाद में हिंदू आबादी पिछले दो दशकों में काफी बढ़ी है और इसलिए मंदिर की आवश्यकता महसूस हो रही थी। मल्ही ने इश दौरान अल्पसंख्यक समुदाय के लिए इस्लामाबाद में श्मशान की कमी पर खेद भी जताया।
रिपोर्ट में कहा गया है कि धार्मिक मामलों के मंत्री पीर नूरुल हक कादरी ने कहा कि निर्माण की लागत सरकार वहन करेगी, जिसके निर्माण में 10 करोड़ रुपये की लागत आएगी है। मंत्रालय के एक वरिष्ठ अधिकारी का हवाला देते हुए कहा गया है कि मंत्री पहले ही प्रधानमंत्री इमरान खान के साथ मंदिर के लिए विशेष अनुदान का मामला उठा चुके हैं।
इस्लामाबाद हिंदू पंचायत ने मंदिर का नाम श्री कृष्ण मंदिर रखा है। मंदिर परिसर में एक श्मशान स्थल भी होगा, इसके अलावा अन्य धार्मिक संस्कारों के लिए अलग-अलग संरचनाओं के लिए जगह होगी।
मंदिर के लिए भूखंड 2017 में राजधानी विकास प्राधिकरण (सीडीए) द्वारा हिंदू पंचायत को आवंटित किया गया था। हालांकि, कुछ औपचारिकताओं के कारण निर्माण कार्य में देरी हुई थी, जिसमें सीडीए और अन्य संबंधित अधिकारियों से साइट के नक्शे और दस्तावेजों की मंजूरी भी शामिल थी।