लखनऊ में डायल 112 पर WhatsApp Call से दी सीएम आवास समेत 50 जगह को बम से उड़ाने की धमकी!

लखनऊ में डायल 112 पर किसी ने व्हाट्सएप कॉल से मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के सरकारी आवास, डायल 112 के मुख्यालय तथा 50 अन्य भवनों में विस्फोट की धमकी दी है। शुक्रवार शाम किसी अज्ञात शख्‍स ने Whatsapp Call करके उत्‍तर प्रदेश के मुख्‍यमंत्री निवास सहित 50 अन्‍य स्‍थानों को बम से उड़ाने की धमकी दी है। धमकी देने वाले ने यह कॉल लखनऊ में डॉयल 112 पर किया था। इसके बाद पुलिस हाई अलर्ट पर है और फोन करने वाले की तलाश शुरू कर दी गई है। लखनऊ में जगह-जगह पर वाहनों की चेकिंग शुरू कर दी गई है। इस प्रकरण में पुलिस छानबीन में लगी है।
उत्तर प्रदेश में लगाकार आ रहे धमकी भरे फोन कॉल के बाद मुख्यमंत्री आवास की सुरक्षा बढ़ा दी गई है। यूपी पुलिस के 112 कंट्रोल रूम पर लगातार धमकी भरे मैसेज आ रहे हैं। जिसके बाद एहतियात के तौर पर मुख्यमंत्री आवास, 5 कालीदास मार्ग की सुरक्षा बढ़ा दी गई है। दरअसल, यूपी पुलिस की इमरजेंसी सर्विस यूपी 112 के व्हाट्सएप नंबर पर एक धमकी भरा मैसेज भेजा गया है, जिसमें यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को बम से उड़ाने की धमकी दी गई है। मई में मुंबई से पकड़े गए कामरान अमीन की गिरफ्तारी के बाद दूसरी बार ये धमकी दी गई है। बीते मई महीने में ऐसी ही एक धमकी पर मुंबई के कामरान अमीन को यूपी एसटीएफ ने गिरफ्तार किया था। 
इस मामले में गौतमपल्ली थाने में एफआईआर दर्ज कराने की तैयारी की जा रही है। अपर मुख्य सचिव गृह अवनीश अवस्थी ने बताया कि मामले की जांच की जा रही है। मामले में अज्ञात के खिलाफ FIR की तैयारी की जा रही है। वहीं, धमकी मिलने के बाद शासन हरकत में आ गया है। मामले की गंभीरता को देखते हुए शासन में बैठक शुरू हो गई है। जिसमें अपर मुख्य सचिव गृह अवनीश अवस्थी समेत गृह विभाग के सभी सचिव और आला अधिकारी मौजूद हैं। 
गौरतलब है कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को जाने से मारने की पहले की धमकियां मिलती रही हैं। सुरक्षा की दृष्टि से सीएम योगी आदित्यनाथ पर देश के सभी मुख्यमंत्रियों से ज्यादा खतरा है। पहले से ही मुख्यमंत्री योगी आतंकवादियों के निशाने पर रहे हैं। 
आईबी ने पहले भी उनकी सिक्योरिटी को लेकर अलर्ट जारी किया हुआ है। उन्हें Z+ सिक्योरिटी भी मिली हुई है। लगातार जान से मारने की धमकियों के चलते योगी आदित्यनाथ को सांसद बनने से पहले केंद्र सरकार की तरफ से Z level की सिक्योरिटी मिली हुई थी, जिसके सीएम बनने के बाद बढ़ाकर Z+ कर दिया गया है।