कराची स्टॉक एक्सचेंज पर बड़ा आतंकी हमला, 2 लोग सहित सभी 4 आतंकी मारे गए!

पाकिस्तान के कराची स्थित स्टॉक एक्सचेंज में आज हुए आतंकी हमले ने इस्लामाबाद को हिला दिया है। देश की आर्थिक राजधानी कहे जाने वाले कराची में इस हमले ने पाकिस्तान को ये सबक तो दे ही दिया है उसके पाले आतंकी उसी के लिए भस्मासुर बनते जा रहे हैं। अपनी जमीन का इस्तेमाल भारत समेत दूसरे मुल्कों के लिए आतंकी गतिविधियों के लिए इस्तेमाल करने की इजाजत देने वाला इस्लामाबद आज खुद लहूलुहान है। कराची हमले में 5 लोगों की मौत हुई है। इस हमले ने साबित कर दिया है कि पाक के आतंकी ग्रुप उसी पर भारी पड़ रहे हैं।
FATF ने पाकिस्तान को ग्रे ग्रुप में रखा था बता दें कि पेरिस की संस्था फाइनेंशियल एक्शन टास्क फोर्स (एफएटीएफ) ने बुधवार को अपनी पूर्ण बैठक के अंतिम दिन तय किया कि पाकिस्तान को ग्रे सूची (संदिग्ध सूची) में ही रहने दिया जाए। पाक पर आरोप है कि वह लश्कर-ए-तैयबा और जैश-ए-मोहम्मद जैसे आतंकी संगठनों को मिलने वाले धन पर रोक लगाने में असफल रहा है।
भारत के खिलाफ लगातार आतंकी गतिविधियों के लिए खाद-पानी मुहैया कराने वाले पाकिस्तान पूरी दुनिया में इस कारण बदनाम हो चुका है। दुनिया के देश उसे आतंकियों को सुरक्षित पनाहगान मानते रहे हैं। अब उसके पाले-पोसे आतंकी ही उसे नुकसान पहुंचा रहे हैं। पाकिस्तान में गत कई सालों में कई आतंकी हमले हुए हैं।

जैश, लश्कर आतंकी संगठन को देता है पनाह, लादेन भी पाक में मारा गया था

जैश-ए-मोहम्मद और लश्कर-ए-तैयबा जैसे आतंकी संगठनों को अपनी जमीन मुहैया कराने वाले पाकिस्तान ने इन आतंकी संगठनों का इस्तेमाल कई बार अपने फायदे के लिए किया है। लेकिन कई बार उनके पाले ये भस्मासुर उन्हीं पर हमला करते रहते हैं। दुनिया का मोस्ट वांटेंड आतंकवादी ओसामा बिन लादेन भी पाकिस्तान में ही मारा गया था।

पाक पीएम इमरान ने लादेन को कहा था 'शहीद'

आतंकवाद के खात्मे को लेकर पाकिस्तान का क्या रुख है यह प्रधानमंत्री इमरान खान के देश की संसद में दिए बयान से साफ हुआ था। दुनियाभर में खूंखार आतंकी हमलों को अंजाम देने वाले अल-कायदा सरगना ओसामा बिन लादेन को खान ने 'शहीद' करार दिया है। खान ने यह बयान ऐसे वक्त में दिया जब पहले ही अंतरराष्ट्रीय मंच पर आतंकवाद के खिलाफ कोई कदम न उठाने और आतंंकी संगठनों को पनाह देने का आरोप उस पर लग रहा है। यही नहीं, खान ने यह भी कहा कि पाकिस्तान को आतंकवाद के खिलाफ जंग में अमेरिका का साथ नहीं देना चाहिए था। अमेरिका पर बरसते हुए खान ने कहा कि अमेरिकी फोर्सेज ने पाकिस्तान में घुसकर लादेन को 'शहीद' कर दिया और पाकिस्तान को बताया भी नहीं और इसके बाद पूरी दुनिया पाकिस्तान की ही बेइज्जती करने लगी।
पाकिस्तान में ठिकाना लिए आतंकी उसे ही कई बार नुकसान पहुंचा चुका है। आत्मघाती हमले में पाकिस्तान में सैकड़ों लोग मारे गए हैं।

-2014 में पेशावर के आर्मी स्कूल में हुए एक आतंकी हमले में 141 से ज्यादा लोग मारे गए थे जिनमें 132 से ज्यादा बच्चे थे। इस हमले पूरी दुनिया को हिलाकर रख दिया था। इस हमले की जिम्मेदारी आतंकी सगंठन तहरीक-ए-तालिबान ने ली थी। जिसे खुद पाकिस्तान ने पाला था।
-
-2017 में सिंध प्रांत के शाहबाज कलंदर दरगाह में हुए एक आत्मघाती हमले में 100 से ज्यादा लोगों की मौत हुई थी।
-
-2017 में ही लाहौर में हुए एक ब्लास्ट में 16 लोगों की मौत हो गई थी। इसी साल 21 जनवरी को पाकिस्तान-अफगानिस्तान बॉर्डर के करीब धमाके की वजह 25 लोग मारे गए थे।
-
-7 अगस्त 2016 को क्वेटा के सिविल अस्पताल में एक आत्मघाती हमलावर ने खुद को उड़ा लिया था। इस हमले में 70 लोगों की मौत हुई थी।