इंटरनेशनल योग दिवस 2020: योगा के रोजाना 15 मिनट अभ्यास से शरीर को होते हैं ये 7 बड़े फायदे!

हमारे सेहत के लिए योग कितना फायदेमंद है, ये बात हम सभी लोग अच्छी तरह से जानते हैं। योग के नियमित अभ्यास से आप दिनभर ऊर्जावान रहते हैं और कई तरह की बीमारियों से भी सुरक्षा मिलती है। हर मौसम में योग हमारे सेहत के लिए फायदेमंद है। योग से होने वाले फायदों के प्रति लोगों को जागरूक करने के लिए हर साल 21 जून को अंतरराष्ट्रीय योग दिवस मनाया जाता है। आज हम आपको इस लेख के माध्यम से योग के अभ्यास से होने वाले 7 बड़े फायदों के बारे में बताएंगे।

फिट के साथ खुश भी रहेंगे

कोई भी व्यक्ति फिट तभी है, जब वो केवल शारीरिक ही नहीं बल्कि मानसिक व भावनात्मक रूप से भी फिट हो। अगर आप उत्साह से भरे हैं और प्रसन्नचित्त हैं, तभी आप स्वस्थ हैं। इन मामलों में योग आपकी बहुत मदद करता है। यूं कहें तो योग के अभ्यास से आप शारीरिक और मानसिक दोनों तरह से फिट रहते हैं।

सांस पर नियंत्रण

योग के अभ्यास के दौरान सांस लेने की प्रक्रिया बहुत महत्वपूर्ण होती है। इसके साथ ही योग सांस पर नियंत्रण रखने की कला सिखाता है। सांस पर नियंत्रण होने के कारण मस्तिष्क के हर हिस्सों में संतुलन बना रहता है।

वजन पर नियंत्रण

बढ़ते वजन की समस्या से आज के समय में अधिकांश लोग परेशान हैं। अगर आप वजन को कम करना चाहते हैं, तो योग आपके लिए मददगार हो सकता है। सूर्य नमस्कार और कपाल भारती प्राणायम आपको शरीर पर जमा अतिरिक्त चर्बी से राहत दिलाने में मदद करता है। इसके साथ ही योग करने से आप शरीर के लिए उपयोगी भोजन के प्रति संवेदनशील हो जाते हैं, जिससे आपका वजन नियंत्रण में रहता है।

इम्यून सिस्टम होगा बेहतर

योग ही एक ऐसा साधन है जो नेचुरल इम्यूनिटी बूस्टर का काम करता है। हमारे शरीर में प्रतिरक्षा प्रणाली यानी इम्यून सिस्टम बीमारियों से लड़ने और उसे दूर रखने का काम करती है। इम्यून सिस्टम के कमजोर होने के वजह से सर्दी-जुकाम, वायरल समेत कई खतरनाक बीमारियों का खतरा पैदा हो जाता है।

मानसिक तनाव से मुक्ति

रोजाना योगा के अभ्यास से आपको मानसिक तनाव से राहत मिलेगा। तनाव को दूर करने में योगासन, प्राणायाम और ध्यान बहुत ही प्रभावी होते हैं।

योग से बढ़ेगी एकाग्रता

अगर आपका मन शांत नहीं रहता है, तो योग के अभ्यास से आप खुद को बेहतर ढंग से एकाग्र कर पाएंगे। इसके साथ ही रोजमर्रा की कार्य-योजना को बेहतर तरीके से क्रियान्वित कर पाते हैं।

ब्लड सर्कुलेशन होगा बेहतर

योगासनों और श्वास-तकनीकों से शरीर में रक्त का संचार बेहतर हो जाता है। ब्लड सर्कुलेशन के बढ़िया होने से शरीर के अंगों तक ऑक्सीजन पहुंचने में दिक्कत नहीं होती है।