लॉकडाउन बढ़ने की फैली अफवाह, भारत में पिछले 24 घंटों में सर्वाधिक 10956 मामले, 396 मौत!

कोरोना वायरस के मामले के हिसाब से भारत ने गुरुवार को ब्रिटेन को पीछे छोड़ दिया और दुनिया का चौथा सबसे प्रभावित देश बन गया। देश में पिछले 24 घंटों में कोविड 19 के सर्वाधिक 10,956 मामले सामने आए हैं जबकि 396 मौत हुई हैं। देश में अब कोरोना के मामलों की कुल संख्या 2,97,535 है, जिनमें 1,41,842 सक्रिय मामले, 1,47,195 ठीक/डिस्चार्ज/विस्थापित मामले और 8,498 मौतें शामिल हैं। स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय ने शुक्रवार सुबह यह जानकारी दी। इधर लॉकडाउन बढ़ने की अफवाह से लोग परेशान हैं। सोशल मीडिया पर खबर चल रही है कि कोरोना मरीजों की संख्‍या के बढ़ने के कारण एक बार फिर लॉकडाउन सरकार बढ़ा देगी। वहीं दुनियाभर के लोग कोरोना वायरस संकट से जूझ रहे हैं। वर्ल्डोमीटर की मानें तो, पूरी दुनिया में कोरोना से चार लाख 21 हजार से ज्यादा लोगों की मौत हो गई है और 75 लाख 46 हजार से ज्यादा लोग इस वायरस से संक्रमित हैं।

सुप्रीम कोर्ट ने सुनाया यह फैसला
शुक्रवार को सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि लॉकडाउन के दौरान श्रमिकों को पूरा पारिश्रमिक देने में असफल रहे निजी प्रतिष्ठानों के खिलाफ कोई दंडात्मक कार्रवाई नहीं की जाये. उद्योगों और श्रमिकों को एक दूसरे की जरूरत है और पारिश्रमिक के भुगतान विवाद को हल करने के प्रयास किये जाने चाहिए. कोर्ट ने राज्यों से कहा कि वे उद्योगों और कर्मचारियों के बीच पारिश्रमिक विवाद का निबटारा करायें और श्रम आयुक्त को अपनी रिपोर्ट दें.

24 घंटों में कोविड 19 के सर्वाधिक 10,956 मामले

देश में पिछले 24 घंटों में कोविड 19 के सर्वाधिक 10,956 मामले सामने आए हैं जबकि 396 मौत हुई हैं. देश में अब कोरोना के मामलों की कुल संख्या 2,97,535 है, जिनमें 1,41,842 सक्रिय मामले, 1,47,195 ठीक/डिस्चार्ज/विस्थापित मामले और 8,498 मौतें शामिल हैं. स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय ने शुक्रवार सुबह यह जानकारी दी.

पूरा झारखंड कोरोना की चपेट में

झारखंड में कोरोना जांच का सैंपल एक लाख के पार हो गया है. 24 मार्च से शुरू हुई जांच में अब तक एक लाख एक हजार 609 लोगों के सैंपल लिये गये हैं. 31 मार्च को रांची में पहला केस मिला था. इसके बाद लगातार केस मिलने का सिलसिला जारी रहा. अब तक 1599 संक्रमित मिले हैं. इनमें से लगभग 1311 प्रवासी हैं. सबसे अधिक 225 प्रवासी सिमडेगा जिले में संक्रमित मिले हैं. वहीं, राज्य का कोई भी जिला कोरोना के संक्रमण से अछूता नहीं रह गया है.

स्पेन को पीछे छोड़ भारत चौथा सबसे संक्रमित देश
स्पेन और ब्रिटेन को पीछे छोड़ कर भारत दुनिया का चौथा सबसे संक्रमित देश बन गया. देश में अब तक 2.97 लाख संक्रमित हो चुके हैं, जबकि करीब साढ़े आठ हजार लोगों की जान चली गयी है. स्पेन में 2,89,360 लोग, जबकि ब्रिटेन में 2,91,409 लोग संक्रमित हैं. कोरोना में अब भारत से ऊपर अमेरिका, ब्राजील और रूस हैं. अमेरिका में 20.70 लाख, ब्राजील में 7.75 लाख और रूस में 5.02 लाख कोरोना के मामले हैं. हालांकि, भारत में अमेरिका से ज्यादा लोग स्वस्थ हो रहे हैं. जहां अमेरिका में रिकवरी रेट 39.12 फीसदी है, वहीं भारत में 49.21 फीसदी है.

83 जिलों में 0.73% आबादी में ही संक्रमण के मामले

केंद्र सरकार ने कहा कि देश में अब तक कोराना का कम्युनिटी ट्रांसमिशन नहीं हुआ है. आइसीएमआर के महानिदेशक डॉ बलराम भार्गव ने बताया कि 30 अप्रैल तक 83 जिलों में महज 0.73% आबादी ही कोरोना से संक्रमित हुई थी और कोरोना से मृत्यु दर 0.08% ही थी. सीरो-सर्वेक्षण में 83 जिलों और 26,400 लोगों को शामिल किया गया है. इन जिलों में आबादी का 0.73% लोग कोरोना वायरस की चपेट में आ चुके हैं.

बिहार का हाल
बिहार में कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या में तेजी से इजाफा हो रहा है. राज्य में गुरुवार को कोरोना के 250 नये कोरोना मरीज मिले. इसके साथ ही बिहार में कोरोना संक्रमितों की कुल संख्या बढ़कर 5948 पहुंच गयी है. स्वास्थ्य विभाग द्वारा गुरुवार को जारी रिपोर्ट के अनुसार बिहार में अब तक कुल 1,13,225 सैंपल की जांच हुई है. साथ ही कोरोना वायरस से संक्रमित अबतक कुल 3086 मरीज ठीक हुए हैं.

दिल्ली में फिर लग सकता है लॉकडाउन!

राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में कोरोनावायरस के मामले लगातार बढ़ते जा रहे हैं और हालात बेकाबू होते जा रहे हैं. ऐसे में अरविंद केजरीवाल सरकार एकबार फिर दिल्ली में लॉकडाउन लगा सकती है. बुधवार को मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल और गृह मंत्री अमित शाह की मुलाकात के बाद मीडिया में इसकी चर्चा है. एक रिपोर्ट के अनुसार दिल्ली के प्राइवेट अस्पतालों में पूरे बेड लगभग भरे हुए हैं.

15 जून से देशभर में फिर लागू होगा पूर्ण लॉकडाउन ?
सोशल मीडिया में एक खबर तेजी से वायरल हो रही है, जिसमें दावा किया जा रहा है कि कोरोना वायरस के बढ़ते संक्रमण को देखते हुए देशभर में 15 जून से एक बार फिर पूर्ण लॉकडाउन लगा दिया जाएगा. वायरल खबर में यह भी दावा किया जा रहा है कि गृह मंत्रालय ने लॉकडाउन लागू करने को लेकर संकेत भी दिये हैं. जिसमें ट्रेनों के अलावा हवाई सफर पर भी पूर्ण पाबंदी लगा दी जाएगी. इस वायरल खबर पर प्रेस इंफॉर्मेशन ब्‍यूरो ( PIB) ने Fact Check किया. PIB ने वायरल मैसेज को पूरी तरह से गलत और भ्रामक बताया.