सुसाइड से पहले कैसे बीते थे सुशांत सिंह राजपूत के आखिरी 24 घंटे? जानें पूरी कहानी!

बॉलीवुड एक्टर सुशांत सिंह राजपूत ने रविवार को खुदकुशी कर अपनी जान ले ली. उनके इस कदम से उनके परिवार, दोस्त और फैंस अब तक सदमे में हैं. किसी को भी यकीन नहीं हो रहा है कि सुशांत अब इस दुनिया में नहीं रहे. सुशांत ने ये कदम क्यों उठाया इस बारे में अब तक केवल कयास ही लगाए जा रहे हैं. वो ना तो अपने पीछे कोई सुसाइड नोट छोड़ गए हैं और ना ही ये कदम उठाने से पहले उन्होंने किसी से इस बारे में कोई बात की थी.
सुशांत के कमरे से कुछ दवाइयां और पेपर्स मिले हैं. इनके जरिए पता चला कि सुशांत पिछले छह महीने से डिप्रेशन से जूझ रहे थे. अपने पीछे कई सवाल छोड़कर गए सुशांत के मौत से पहले 24 घंटे कैसे बीते होंगे? जब उन्होंने ये कदम उठाया उस समय उनके दिमाग में क्या चल रहा होगा? ये तमाम सवाल आज हर किसी के जहन में उठ रहे हैं.

शायद सुशांत की मौत से पहले के आखिरी 24 घंटे इन सवालों की गुत्थी को सुलझाने में कुछ मदद करेंगे. 13 जून 2020 को सुशांत अपने घर में ही थे. सुशांत घर में अकेले नहीं बल्कि उनके दोस्त भी साथ में थे. हंसते-खेलते खुशमिजाज सुशांत को अचानक क्या हुआ ये कोई नहीं जानता.

कशमकश भरे थे बीते आखिरी घंटे

रिपोर्ट्स के मुताबिक, रात में 12 बजे के बाद सुशांत ने अपने दोस्त और एक्टर को कॉल किया था, लेकिन दोस्त ने उनका फोन नहीं उठाया. सुशांत सिंह राजपूत 14 जून सुबह 6:30 बजे उठे थे. सुबह 9:30 बजे उन्होंने बहन से फोन पर बात की. इसके बाद सुशांत ने अपने दोस्त को भी फोन किया.

करीब 10:30 बजे सुशांत अपने कमरे से निकले और जूस लिया और वापस कमरे में लौट गए. कुछ देर बाद जब नौकर लंच पूछने गया तो कमरा बंद था और वो दरवाजे को खोल नहीं रहे थे. साथ रहने वाले दोस्तों और नौकरों ने सुशांत को फोन भी किया लेकिन फोन नहीं उठाया गया. इसपर सब घबरा गए.
इसके बाद सुशांत की बहन को फोन किया गया. बहन ने सुशांत को कॉल्स की लेकिन उनका फोन भी नहीं उठाया गया. इसके कुछ समय बाद बहन भी सुशांत के घर पहुंच गईं. 12:30 बजे कमरा खुलवाने की कोशिश की गई. कमरा नहीं खुलने पर चाबी बनाने वाले को बुलाया गया. चाबी वाले ने लॉक खोल दिया. दरवाजा खोलते ही सभी के पैरों तले जमीन खिसक गई. सुशांत की बहन, उनके साथ रहने वाला आर्ट डिजाइनर दोस्त और उनका नौकर ने सुशांत को अपने कमरे में फांसी के फंदे पर झूलता देखा.

इसी दौरान लोकल डॉक्टर को बुलाया गया. उनके साथ काम करने वाले एक नौकर ने पुलिस को कॉल किया. तब तक सुशांत की बहन और दोस्तों ने सुशांत की लाश को उतारकर बिस्तर पर रख लिया था. पुलिस ने आकर जांच शुरू की जिसमें पाया गया कि सुशांत डिप्रेशन का शिकार थे. डॉक्टर्स को बुलाकर उनके शव की जांच करवाई गई और उन्हें मृत घोषित कर दिया गया. इसके कुछ समय बाद उनके शरीर को पोस्टमोर्टम के लिए भेज दिया गया.
सुशांत के यूं अचानक जाने से इंडस्ट्री में सभी चौंके हुए हैं. अभी तक किसी को समझ नहीं आ रहा कि उन्होंने इतना बड़ा कदम आखिर क्यों उठाया. बॉलीवुड से लेकर टीवी तक के तमाम सितारों ने सोशल मीडिया पर दुख जाहिर किया है. सुशांत सिंह राजपूत का परिवार बेटे को खोने के बाद सदमे में है.