महाराष्ट्र में 28 जून यानी कल से खुलेंगे सैलून और जिम, शेविंग की नहीं होगी परमिशन!

कोरोना वायरस के कारण मुंबई में बंद किए गए जिम और सलून को फिर से खोलने को लेकर महाराष्ट्र सरकार विचार कर रही है। सूत्रों के मुताबिक, राज्य सरकार ने जिम और सलून खोलने को लेकर एक्सपर्ट्स की राय मांगी है। आने वाले समय में कोरोना को लेकर बनाई गई गाइडलाइन का पालन करते हुए जिम/सलून खोलने पर फैसला लिया जा सकता है। वहीं मंत्री विजय वाडेतीवार ने कहा कि 28 जून से जिम और सलून के शुरू होने का ऐलान कर दिया है।
दरअसल महाराष्ट्र में काफी समय से जिम और सैलून खोले जाने को लेकर के लोग मांग कर रहे थे, हालांकि कोरोना की वजह से लगातार राज्य सरकार मांग को पूरा नहीं कर पा रही थी। अब यह फैसला किया गया है कि महाराष्ट्र में जिम और सैलून को खोला जाएगा। लेकिन उनके लिए गाइडलाइंस तैयार की जाएंगी जिन्हें एक-दो दिन में जारी किया जाएगा। उसके बाद में ही कुछ नियम और शर्तों के साथ लोग जिम और सैलून को दोबारा महाराष्ट्र में खोले जाएंगे।

मास्क लगाना होगा अनिवार्य

सरकार के आदेश के मुताबिक हेयरकट करने और करवाने वाले दोनों ही लोगों को मास्क पहनना जरूरी होगा। सैलून में सिर्फ हेयरकट कराने की इजाजत दी है।सैलून में शेविंग कराने की इजाजत नहीं दी है। इसके लिए जल्द ही गाइडलाइंस जारी की जाएगी। ग्राहक और दुकानदार दोनों को मास्क लगाना होगा। वहीं सलून में ए.सी का इस्तेमाल नहीं किया जा सकेगा।

लोगों की मांग पर सरकार ने लिया फैसला

सूबे में जब से अनलॉक शुरू हुआ है तब से जिम और सैलून चलाने वाले लोगों की फिर इन्हें चालू करने की इजाजत मांगी जा रही थी। इस विषय पर राज्य कैबिनेट ने आज ये तय किया है कि अब इन्हें खोलने की इजाजत दी जाएगी।

कुछ लोगों ने सुसाइड भी किया था

महाराष्ट्र के कैबिनेट मिनिस्टर और मुंबई के गार्डन मिनिस्टर असलम शेख ने यह बताया कि लॉकडाउन के दौरान कुछ सलून चलाने वाले लोगों ने आत्महत्या की थी। ऐसे में राज्य भर से लगातार जिम और सैलून को खोलने की डिमांड आ रही थी और इसी चीज को ध्यान में रखते हुए अनलॉक-1 में धीरे-धीरे उद्योग धंधों और छोटे उद्योगों को खोलने की इजाजत दी जा रही है उसी प्रयास में हमने जिम और सैलून को भी इजाजत दी है और एक-दो दिन में हम नियम और शर्तें भी बताएंगे।

महाराष्ट्र में 1 लाख 43 हजार के करीब केस

महाराष्ट्र में बुधवार को कोविड-19 के 3,890 नये मामले सामने आये थे जिससे राज्य में इसके कुल मामले बढ़कर 1,42,900 हो गए। अधिकारी ने बताया कि कोरोना वायरस से 208 लोगों की मौत होने से राज्य में मृतक संख्या बढ़कर 6,739 हो गई। अधिकारी ने कहा कि इन 208 मरीजों में से 72 की मौत पिछले 48 घंटे में हुई जबकि बाकी 136 की मौत उससे पहले हुई थी लेकिन पूर्व में उनकी मौत का कारण कोविड-19 के रूप में उल्लेखित नहीं था।