62 एनकाउंटर स्पेशलिस्ट रिटायर्ड DSP ने की आत्महत्या, सुसाइड नोट हुआ बरामद!

बिहार पुलिस में कभी एनकाउंटर स्पेशलिस्ट के नाम से मशहूर रहे पूर्व डीएसपी  कृष्णा चंद्रा ने अपने घर में खुद को गोली मारकर आत्महत्या कर ली. आत्महत्या से पहले सुसाइड नोट में उन्होंने इसके लिए अपने मानसिक अवसाद और एक पड़ोसी को जिम्मेदार बताया है.
के चंद्रा को बिहार पुलिस के जाबांज अधिकारियों में गिना जाता था और 37 साल की नौकरी में उन्होंने 60 से ज्यादा एनकाउंटर किए थे. रिटायर होने के बाद वो पटना में ही अपने परिवार के साथ रहते थे. पटना पुलिस को जब आत्महत्या की खबर मिली तो हड़कंप मच गया और मौके पर कई अधिकारियों ने खुद जाकर जांच पड़ताल की.
के चंद्रा पटना के बेउर थाना क्षेत्र के मित्रमंडली कॉलोनी फेज-2 में अपने निजी आवास में रहते थे. आत्महत्या से पहले उन्होंने दो पन्नों का सुसाइड नोट भी लिखा था जो पुलिस ने बरामद कर लिया है.
उन्होंने सुसाइड नोट में लिखा, बीते 16 सालों से मैं अपना इलाज करा रहा था. मानसिक अवसाद की वजह से मैं कई महीनों से सोया नहीं हूं और पड़ोसी की वजह से अब उनका अवसाद और ज्यादा बढ़ गया है जिसकी वजह वो आत्महत्या जैसा कदम उठाने पर मजबूर हो गए हैं.'
उन्होंने आत्महत्या के लिए अपनी पत्नी और बच्चों से माफी भी मांगी है और लिखा है कि इसके अलावा उनके पास कोई और रास्ता नहीं बचा था. उन्होंने दूसरे सुसाइड नोट में अपने बेटे को संबोधित करते हुए लिखा है कि उनकी मौत के बाद उसे क्या-क्या और कैसे करना है.
पूर्व डीएसपी के बेटे ने बताया कि जल जमाव की समस्या से उसके पिता परेशान थे और नगर निगम की लापरवाही की वजह से खुद को गोली मार ली.
वहीं घटना के बाद पूरे इलाके में लोग ये सोचकर हैरान हैं कि जिस डीएसपी ने दर्जनों इनकाउंटर कर अपराधियों की नींद हराम कर दी थी उसने आखिर इतनी छोटी सी बात पर खुद को गोली क्यों मार ली.