मणिपुर में खतरे में BJP की गठबंधन सरकार, 3 विधायक कांग्रेस में हुए शामिल, डिप्‍टी CM समेत 4 मंत्रियों का इस्तीफा!

कोरोना महामारी के बीच मणिपुर में बीजेपी की गठबंधन सरकार पर खतरे के बादल मंडरा रहे हैं। राज्‍य में बीजेपी के 3 विधायकों ने बुधवार को पार्टी छोड़कर कांग्रेस का दामन थाम लिया है। इसके अलावा राज्‍य के उप मुख्‍यमंत्री वाई जॉयकुमार सिंह ने पद से इस्‍तीफा दे दिया है। उनके साथ 3 अन्‍य मंत्रियों ने भी इस्‍तीफा दिया है। साथ ही एक टीएमसी विधायक और एक निर्दलीय विधायक ने सरकार से अपना समर्थन वापस ले लिया है।
बीजेपी छोड़कर कांग्रेस में शामिल होने वाले तीनों विधायकों के नाम एस सुभाषचंद्र सिंह, टीटी हाओकिप और सैमुअल जेंदई हैं। इनके अलावा नेशनल पीपुल्‍स पार्टी (NPP) की ओर से डिप्‍टी सीएम वाई जॉयकुमार सिंह, मंत्री एन कायिसी, मंत्री एल जयंत कुमार सिंह और लेतपाओ हाओकिप ने पद से इस्‍तीफा दिया है। उनके साथ ही तृणमूल कांग्रेस के विधायक टी रबिंद्रो सिंह और निर्दलीय विधायक शहाबुद्दीन ने सरकार से अपना समर्थन वापस लिया है।
बता दें कि मणिपुर में अभी एन बीरेन सिंह मुख्‍यमंत्री हैं। बुधवार को बीजेपी छोड़कर कांग्रेस में शामिल होने वाले विधायकों और पद से इस्‍तीफा देने वाले मंत्रियों ने कांग्रेस को समर्थन की बात कही है। ऐसे में राज्‍य में कभी भी राष्‍ट्रपति शासन लगाए जाने संबंधी फैसला हो सकता है। वहीं मौजूदा विपक्षी दल कांग्रेस पूरी तरह से आश्‍वस्‍त है कि ओकराम इबोबी को मणिपुर का मुख्‍यमंत्री बनाया जाएगा।
जानकारी के मुताबिक इस मामले में कांग्रेस की अंंतरिम अध्‍यक्ष सोनिया गांधी ने बैठक भी की है। कयास लगाए जा रहे हैं कि कांग्रेस गुरुवार को मणिपुर में सरकार बनाने का दावा पेश कर सकती है। कहा जा रहा है कि कांग्रेस बीजेपी व अन्‍य दलों के कुछ और विधायकों से संपर्क कर रही है। यह भी बात सामने आ रही है कि गुरुवार को दो और विधायक कांग्रेस में शामिल हो सकते हैं।