फिल्‍म अभिनेता नाना पाटेकर दो दिनों के लिए पहुंचे बिहार, मोकामा के खेत में खुद कुछ देर चलाया हल!

अभी तक आपने फिल्‍मों या धारावाहिकों में फिल्‍म अभिनेता नाना पाटेकर को खेतों में देखे होंगे। लेकिन शनिवार को वे बिहार के खेत में नजर आए। इतना ही नहीं, फिल्‍म अभिनेता नाना पाटेकर इस मानसूनी सीजन में खेत में हल भी चलाए। यह पूरा वाकया पटना जिले के मोकामा में हुआ। नाना पाटेकर दो दिनों के लिए बिहार आए हुए हैं।
बॉलीवुड के सुप्रसिद्ध अभिनेता नाना पाटेकर शनिवार को बिहार के पटना जिला अंतर्गत स्थित मोकामा पहुंचे। उनका हेलीकॉप्टर पटना एयरपोर्ट से चलकर सीधे सीआरपीएफ के मोकामा घाट ग्रुप केंद्र के प्रांगण में उतरा। ग्रुप केंद्र के प्रभारी डीआइजी अनिल कुमार मिंज की अगुवाई में उनका स्वागत किया गया। गेस्ट हाउस में लंच के बाद वे ग्रुप केंद्र से सटे औंटा ग्राम पहुंचे। अपने हाथों से हल चलाने के बाद बीज की बुआई कर औषधीय खेती का शुभारंभ किया। योजना को एक एनजीओ ने शुरू किया है।
फिल्‍म अभिनेता पाटेकर इसी गांव में अत्याधुनिक तकनीक से संचालित खादी भंडार भी गए और वहां करघा चलाकर देखा। उनके आने की खबर सुनकर जुटी भीड़ का अभिनेता ने हाथ हिलाकर अभिवादन किया। औंटा में संक्षिप्त कार्यक्रम के बाद वे फिर सीआरपीएफ ग्रुप केंद्र लौट आए।
ग्रुप केंद्र के प्रभारी डीआइजी मिंज ने बताया कि सिने अभिनेता सीआरपीएफ जवानों के बीच एक सांस्कृतिक कार्यक्रम में शामिल होने आए थे। देर शाम आयोजित कार्यक्रम के दौरान नाना पाटेकर ने जवानों की हौसलाअफजाई की और उनके साथ बातचीत की।
बता दें कि मोकामा के औंटा गांव में आयोजित कार्यक्रम गृह मंत्रालय की ओर से आयोजित किया गया था। रविवार की सुबह परिसर में पौधारोपण करने के बाद वह पुन: पटना एयरपोर्ट के लिए प्रस्थान करेंगे। वहां से सीधे मुंबई जाएंगे। उधर नाना पाटेकर के आने की जानकारी मिलते ही लोग उन्‍हें देखने के लिए काफी संख्‍या में पहुंच गए। खासकर युवाओं में नाना पाटेकर को लेकर काफी उत्‍साह था।